Home बड़ी खबरें भारत असम में आग का भयानक मंजर, 2 की मौत, बुझाने में लग...

असम में आग का भयानक मंजर, 2 की मौत, बुझाने में लग सकते हैं 4 हफ्ते

Assam Fire: असम के तिनसुकिया (Tinsukia Fire) स्थित ऑयल इंडिया (Oil India) में लगी भीषण आग पर अब तक काबू नहीं पाया जा सका है। दो दमकलकर्मियों की मौत भी हो गई हैं जिनमें से एक पूर्व फुटबॉलर है। तेल कुएं से फैली आग अब गांवों और जंगलों की ओर बढ़ चुकी है। कई घर जल चुके हैं।

Edited By Shefali Srivastava | एजेंसियां | Updated:

असम में लगी भीषण आग
हाइलाइट्स

  • असम के तिनसुकिया में ऑयल इंडिया के बागजान कुएं में लगी भीषण आग पर अब तक काबू नहीं
  • हादसे में दो दमकलकर्मियों की मौत, एक की पहचान पूर्व फुटबॉलर दुरलोव गोगोई के रूप में
  • असम के तेल कुएं में लगी आग भीषण, बुझाने में चार हफ्ते यानी एक महीने का वक्त लग सकता है

डिब्रूगढ़/गुवाहाटी

असम के तिनसुकिया में सरकारी गैस कंपनी ‘ऑयल इंडिया’(Oil India) के बागजान कुएं में लगी भीषण आग पर अब तक काबू नहीं पाया जा सका है। वहीं इस हादसे में दो दमकलकर्मियों की मौत हो गई है। इनमें से एक की पहचान असम के पूर्व फुटबॉलर दुरलोव गोगोई (Durlov Gogoi) के रूप में हुई है। गोगोई अंडर-19 और अंडर-21 कैटिगरी के अंतर्गत कई टूर्नामेंट में असम को रिप्रजेंट कर चुके हैं। कहा जा रहा है कि आग इतनी भीषण कि इसे बुझाने में चार हफ्ते यानी एक महीने का वक्त लग सकता है।

‘ऑयल इंडिया’ के प्रवक्ता त्रिदिव हजारिका ने बताया कि आग लगने के बाद दो दमकलकर्मी लापता हो गए थे। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम को हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। एनडीआरएफ के एक दल ने बुधवार सुबह दोनों के शव बरामद किए। अधिकारी ने बताया कि दोनों की पहचान दुरलोव गोगोई और टीकेश्वर गोहेन के रूप में की गई है और दोनों कंपनी के अग्निशमन विभाग में सहायक ऑपरेटर हैं। इस आग को बुझाने के प्रयास में ओएनजीसी का एक दमकलकर्मी मामूली रूप से झुलस गया था।

पढ़ें: असम: तेल के कुएं में लगी आग अब गांवों में फैली, 6 लोग जख्मी

15 दिन से हो रहा है गैस का रिसाव

बता दें कि 15 दिनों से यहां गैस का अनियंत्रित रिसाव हो रहा था जिसके बाद मंगलवार को आग लग गई थी। त्रिदिव हजारिका ने कहा, ‘दमकलकर्मियों शव आग लगने वाली जगह के निकट पानी वाले क्षेत्र से बरामद किए गए। ऐस मालूम हो रहा है कि वे पानी में कूद गए और डूब गए क्योंकि उनके शरीर पर जलने का कोई निशान नहीं हैं। उनकी मौत की असल वजह जांच के बाद ही पता चल पाएगी।’



स्थानीय लोगों ने तेल कर्मचारियों पर किया हमला


भीषण आग की जद में आस-पास के जंगल का हिस्सा, मकान और वाहन भी आ गए जिसके चलते पूरे इलाके में अफरा-तफरी का माहौल है। इसके चलते स्थानीय लोगों ने ऑयल कर्मचारियों पर हमला कर दिया। इसमें कई कर्मचारियों को चोटें भी आई हैं।



केंद्रीय मंत्री से मुआवजे की गुजारिश


वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात कर पीड़ितों को हर संभव मदद का आश्वासन दिया। सोनोवाल ने पीएम मोदी को कॉल करके घटना के बारे में बताया था। इस बारे में मुख्यमंत्री सोनेवाल ने ट्वीट कर जानकारी भी दी। सोनोवाल ने पत्रकारों ने बातचीत में कहा कि उन्होंने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री से दोनों मृतक के परिजनों को मुआवजा और एक सदस्य को नौकरी देने की गुजारिश की है।

​दो हफ्ते से लीक हो रही थी गैस, अचानक हुआ ब्लास्ट

  • ​दो हफ्ते से लीक हो रही थी गैस, अचानक हुआ ब्लास्ट

    तिनसुकिया के बाघजन स्थित सरकारी तेल के कुएं में बीते दो हफ्ते से गैस लीक हो रही थी। आसपास के लोगों को भी काफी दिक्कत हो रही थी। हालांकि ऑयल कंपनी का कहना है कि वह अपनी तरफ से गैस लीक पर काबू पाने का प्रयास कर रही थी। ऑयल इंडिया और लोकल प्रशासन इस पर नजर बनाए हुए था और इस पर नियंत्रण की कोशिश की जा रही थी।

  • ​​​कनाडा की एक्सपर्ट टीम को गैस लीक रोकने को बुलाया गया था

    ऑयल इंडिया ने मंगलवार को कनाडा से एक विशेष टीम बुलाई थी। मेसर्स अलर्ट डिजास्टर कंट्रोल के एक्सपर्ट्स ने साइट का निरीक्षण किया और कुएं को नष्ट करने की तैयारी चल रही थी। हालांकि प्रक्रिया पूरी हो पाती उससे पहले ही साइट पर भीषण धमाका हो गया। गनीमत रही कि इस हादसे में कोई घायल नहीं हुआ।

  • ​केंद्र सरकार की नजर, मुख्यमंत्री ने मांगी मदद

    मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को फोन कर हादसे की भयावहता के बारे में सूचित किया है। सोनोवाल ने स्थिति नियंत्रित करने के लिए जल्‍द से जल्‍द कदम उठाए जाने की मांग की है। इसके अलावा रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से फोन पर वायुसेना की मदद मांगी है।

  • डिब्रू-साइखोवा नैशनल पार्क करीब, सैकड़ों जीव-जंतुओं पर खतरा

    यह हादसा इसलिए भी भयावह माना जा रहा है क्योंकि हादसे वाली जगह से कुछ मीटर की दूरी पर ही डिब्रू-साइखोवा नैशनल पार्क भी है। 761 वर्ग किलोमीटर में फैला यह पार्ट पर्यावरण की दृष्टि से बेहद संवेदनशील है और कई दुर्लभ जीव-जंतुओं का हैबिटैट है। आग अगर आसपास फैली तो इस जंगल को भी अपनी चपेट में ले सकती है जिसके बाद स्थिति पर काबू पाना बेहद मुश्किल हो जाएगा।

  • हादसे पर राजनीति शुरू, कांग्रेस ने बीजेपी को निशाने पर लिया



4 कर्मचारी पानी में कूदे, 2 की मौत


सोनोवाल ने बताया कि आग के चलते चार तेल कर्मचारी पानी में कूद गए थे जिनमें से 2 की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि आस-पास के गांवों में रह रहे लोगों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा रहा है। हम उन्हें नुकसान के लिए पर्याप्त मुआवजा प्रदान करेंगे।

फायर टेंडर के साथ सेना भी मौजूद

राज्य के मंत्री चंद्र मोहन ने स्थिति का जायजा लिया। तेल का कुआं डिब्रू सैखोवा नैशनल पार्क से लगा हुआ है। इससे एक किमी तक के दायरे में आने वाला वन क्षेत्र और आबादी वाला इलाका प्रभावित है। लोगों के घर, वाहन, छोटे बगीचे और वन क्षेत्र का कुछ हिस्सा भी जल गया है। हम नुकसान का आकलन कर रहे हैं लेकिन भीषण आग और तापमान के चलते यह संभव नहीं हो पा रहा है। घटनास्थल पर ओआईएल,सेना, एयरफोर्स, आईओसी और असम गैस कंपनी के अलावा फायर टेंडर मौजूद हैं और आग बुझाने की कोशिश कर रहे हैं।

सिंगापुर से आएंगे विशेषज्ञ

ऑयल इंडिया ने कहा कि कुएं के आसपास हो रहे प्रदर्शनों को देखते हुए मुख्य सचिव और तिनसुकिया जिला प्रशासन से कानून-व्यवस्था बनाए रखने का अनुरोध किया गया है, ताकि विशेषज्ञ वहां तक पहुंच सकें और कुएं को नियंत्रित करने का अभियान शुरू कर सकें। ऑयल इंडिया और ओएनजीसी के कर्मचारियों को वहां से हटाया जा रहा है। हालात सामान्य होने के बाद सिंगापुर की फर्म ‘अलर्ट डिजास्टर कंट्रोल’ के विशेषज्ञ और सरकारी कंपनी के विशेषज्ञ मौके पर पहुंचेंगे।

आग पर कंट्रोल करने में लगेगा एक महीना

‘ऑयल इंडिया’ ने कहा है कि इस आग को बुझाने में चार हफ्ते यानी एक महीने का वक्त लग जाएगा। बयान में कहा गया है कि कुएं से हो रहे गैस के रिसाव को रोकने में सोमवार से ही जुटे सिंगापुर के तीन विशेषज्ञों को विश्वास है कि हालात पर काबू पाया जा सकता है और कुएं को सुरक्षित बचाया जा सकता है। बयान के अनुसार, इस पूरे अभियान में चार सप्ताह का समय लगने की संभावना है लेकिन विशेषज्ञों की टीम इसे कम करने में जुटी है।

Web Title assam gas leak two died in fire at oil well in assam tinsukia(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

IPL 2020 MI vs KXIP: मोहम्मद शमी ने बताया कैसे सुपर ओवर में उन्होंने एक के बाद एक यॉर्कर बॉल फेंकी

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में मुंबई इंडियंस और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच 18 अक्टूबर को मैच खेला गया है।...

मोदी की रैली में छाया सन्नाटा-तेजस्वी की रैली में उमड़ा जन सैलाब/TEJASHWI SUPER SPEECH

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Amazon Website Link: यदि आप ऊपर दिए गए लिंक से कोई भी सामान खरीदते है तो Amazon से हमें कुछ आर्थिक...

दलितों पर नीतीश कुमार का वो दांव जिसने समेट दी एलजेपी की राजनीति

स्टोरी हाइलाइट्स बिहार में 16 फीसदी दलित मतदाता किंगमेकर नीतीश ने 2005 में चला था महादलित...

आईपीएल इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा, एक मैच में दो सुपर ओवर, पंजाब की मुंबई पर यूं रोमांचक जीत

इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ जब एक मैच में दो सुपर ओवर खेले गए। सुपर संडे में पहला मैच...

Delhi Metro News: मेट्रो के यात्रियों को तोहफा, अब ऑटो टॉपअप फीचर वाले स्मार्ट कार्ड से करें सफर

नई दिल्ली । दिल्ली मेट्रो रेल निगम (Delhi Metro Rail Corporation) ने लोगों की यात्रा सुलभ करने के लिए एक और कदम उठाया है।...

‘साथ निभाना साथिया 2’ में ‘गहना’ का किरदार पाने के लिए किए कई पड़ाव पार, ‘कोकिलाबेन’ से मिलने के लिए क्यों थीं एक्साइटेड?

टीवी के लोकप्रिय शो ‘साथ निभाना साथिया’ के दूसरे सीजन की शुरुआत हो चुकी है। शो में कास्ट लगभग पुरानी ही है, लेकिन...