Home बड़ी खबरें भारत गो तस्करी कानून: इकबाल अंसारी बोले- दूध शिफा, घी दवा और गोश्त...

गो तस्करी कानून: इकबाल अंसारी बोले- दूध शिफा, घी दवा और गोश्त जहर, गाय ना काटें मुसलमान

up cow slaughter act: यूपी सरकार के नए गोकशी-गोतस्करी अध्यादेश पर इकबाल इंसारी (Iqbal Ansari) ने कहा है कि मुसलमान गाय ना तो काटें ना तो खाएं क्योंकि इस्लाम भी इससे रोकता है।

Edited By Nilesh Mishra | टाइम्स न्यूज नेटवर्क | Updated:

योगी राज में गोकशी पर और ‘कड़ा’ कानून, आया अध्यादेश
हाइलाइट्स

  • यूपी के गोकशी, गोतस्करी अध्यादेश के समर्थन में आए इकबाल इंसारी
  • इकबाल अंसारी ने कहा कि मुस्लिमों को गाय ना खानी चाहिए, ना काटनी चाहिए
  • उन्होंने कहा कि गाय का दूध शिफा, घी दवा और गोश्त जहर होता है
  • इकबाल अंसारी ने कहा कि मुस्लिमों को ऐसा कोई व्यवहार नहीं करना चाहिए

अयोध्या

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गोहत्या और गो तस्करी पर कानून को और सख्त कर दिया है। योगी सरकार ने अध्यादेश के जरिए नियम बनाया है, जिसके तहत दोषी पाए जाने वालों को 10 साल की सजा का प्रावधान है। राम मंदिर और बाबरी विवाद में पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने भी इस फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा है कि इस्लाम कहता है कि मुसलमान गाय ना काटें और ना ही उसे खाएं। साथ ही ऐसा कोई बर्ताव भी ना करें, जिससे पड़ोसी को बुरा लगे।

इकबाल अंसारी ने फैसले का स्वागत करते हुए कहा, ‘हमारे यहां जितना सम्मान गाय का हिंदुओं के घर में है, उतना ही मुसलमान के घर में भी है। जो भी सजा का प्रावधान बना हुआ है, वह बहुत बेहतर है। हमारा मजहब इस्लाम साफ कहता है कि दूध से शिफा है, मतलब फायदेमंद है। गाय का घी दवा है और गोश्त जहर है। यह इसलिए कहा गया है कि मुसलमान गाय को काटे नहीं, उसे खाए नहीं। इस्लाम ये पहले ही कह चुका है, योगीजी जो कानून लाए हैं वह स्वागत योग्य है।’

यूपी में सख्त गोहत्या-गोतस्करी अध्यादेश: गायों का करना होगा भरण-पोषण

उन्होंने आगे कहा, ‘हर मुसलमान को चाहिए कि गाय की तरफ सम्मान से देखे और कोई ऐसी हरकत ना करे, जिससे बगल के पड़ोसियों को बुरा लगे।’ दूसरी तरफ ऑल इंडिया जमीतुल कुरैश के सचिव अशफाक कुरेशी ने कहा, ‘हमारी संस्था यह कहती है कि किसी भी बेगुनाह आदमी को गोहत्या के नाम पर जेल ना भेजा जाए। जो दोषी हों, उनके खिलाफ बिलकुल कार्रवाई की जाए। चाहे 10 साल की करिए या 20 साल की करिए, इसपर किसी को ऐतराज नहीं है।’

यूपी में गोकशी पर कानून सख्त, 10 साल तक की जेल, दोबारा दोषी पाए जाने पर सजा भी दोगुनी

क्या है नया गोतस्करी कानून?

प्रस्तावित कानून के अनुसार, अगर तस्करी के लिए ले जाया जा रहा गोवंश जब्त किया जाता है तो एक साल तक उसके भरण-पोषण के खर्च की वसूली भी आरोपी से ही की जाएगी। मौजूदा कानून में गोवंश या उसके मांस को ढोने वाले वाहनों, उनके मालिकों या चालकों पर कार्रवाई को लेकर तस्वीर साफ नहीं थी। अब जब तक वाहन मालिक साबित नहीं कर देंगे कि उन्हें वाहन में प्रतिबंधित मांस की जानकारी नहीं थी, वे भी दोषी माने जाएंगे। वाहन सीज कर दिया जाएगा। इस अधिनियम के तहत सभी अपराध गैरजमानती होंगे।



लाखों का जुर्माना और जेल का प्रावधान


नए कानून में गायों को भूखा-प्यासा रखने वालों के खिलाफ भी सजा का प्रावधान है। गोवंश का जीवन को संकट में डालने या उनके अंग-भंग करने कम से कम एक साल और अधिकतम सात साल की सजा होगा। इसके अलावा उनके ऊपर एक लाख रुपये तक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है। गोवंश का जीवन खतरे में डालने की श्रेणी में उन्हें भूखा-प्यासा रखना भी शामिल किया गया है।

इकबाल अंसारी ने कहा- गाय का मांस ना खाएं मुसलमान

इकबाल अंसारी ने कहा- गाय का मांस ना खाएं मुसलमान

Web Title muslims should not cut or eat cow says iqbal ansari(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहार चुनाव से जुड़े पांच बड़े मिथक और उनकी सच्चाई – BBC News हिंदी

संजय कुमार, निदेशक, सीएसडीएसबीबीसी हिंदी के लिए24 मिनट पहलेइमेज स्रोत, AFPबिहार चुनाव को लेकर कुछ मिथकों की चर्चा ख़ूब होती है. हालांकि उनकी सच्चाई...

बंगाल और असम चुनाव पर भी असर डालेंगे बिहार इलेक्शन के नतीजे, विपक्ष की जीत से TMC को मिलेगी ताकत

बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार पूरे जोर पर है। ठीक एक सप्ताह बाद पहले चरण के लिए वोट डाले जाएंगे। सत्तारुढ़ जदयू-भाजपा गठबंधन के...

Bigg Boss 14 में जब लगा नारी शक्ति का नारा… तो खूब हुआ बवाल, जानें क्यों भड़क उठे सिद्धार्थ

बिग बॉस 14 (Bigg Boss 14) के घर का असली रंग अब दिखने लगा है….शो के कंटेस्टेंट्स खुलकर सामने...

बिहार चुनाव पर पहली बार बोले अमित शाह, BJP की जेडीयू से अधिक सीटें आने पर भी नीतीश ही सीएम बनेंगे

देश के गृह मंत्री और भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए में नेतृत्व को लेकर सारे भ्रम दूर कर दिए...