Home राज्यवार बिहार 14 लाख लोगों ने पूरी की क्वारेंटाइन अवधि, अब ना के बराबर...

14 लाख लोगों ने पूरी की क्वारेंटाइन अवधि, अब ना के बराबर आ रहे मदद के लिए कॉल

पटना: सूचना एवं जनसंपर्क सचिव अनुपम कुमार ने बताया कि, कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति को लेकर लगातार समीक्षा की जा रही है और सरकार द्वारा सभी आवश्यक कार्रवाई की जा रही है. कोरोना संक्रमण से बचाव एवं लॉकडाउन (Lockdown) पीरियड को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा लोगों को अनेक प्रकार से राहत पहुंचाई गई है.

उन्होंने कहा कि, लोगों को राहत प्रदान करने में अभी तक 8,538 करोड़ रुपए से अधिक की राशि व्यय हुई है. इसके अलावा प्राकृतिक आपदा से किसानों की जो फसल क्षति हुई है, उसके लिए 730 करोड़ रुपए निर्गत किए गए हैं. स्वास्थ्य विभाग में कोरोना उन्मूलन कोष का गठन किया गया है, उसमें करीब 180 करोड़ रुपए का प्रावधान कोविड संक्रमण से निपटने के उपायों एवं खरीददारी के लिए किया गया है. इससे यह स्पष्ट होता है कि, कोरोना संक्रमण से सुरक्षा या लॉकडाउन में फंसे जो लोग हैं, उनकी हर जरूरतों को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा मदद की गई है.

14 लाख लोगों ने पूरी की क्वारेंटाइन अवधि
अनुपम कुमार ने बताया कि, आज की तिथि में ब्लॉक क्वारेंटाइन सेंटर्स की संख्या 4,106 है. इनमें 93 हजार 217 लोग आवासित हैं. ब्लॉक क्वारेंटाइन सेंटर्स में अब तक 15 लाख 22 हजार 582 लोग आवासित हो चुके हैं. इनमे से 14 लाख 29 हजार 365 लोग क्वारेंटाइन की निर्धारित अवधि पूरा कर अपने घर वापस जा चुके हैं.

1 हजार रुपए की आर्थिक मदद की जा रही
मुख्यमंत्री आपदा राहत कोष से मुख्यमंत्री विशेष सहायता योजना के अंतर्गत लॉकडाउन के कारण बाहर फंसे, बिहार के 20 लाख 90 हजार 355 लोगों के खाते में प्रति व्यक्ति 1,000 रुपए की सहायता राशि भेजी जा चुकी है. बाहर रहनेवाले बिहार के लोगों का अब तक 2.39 लाख कॉल्स/मैसेजज प्राप्त हुए हैं, जिनमें 31 लाख 76 हजार लोग सम्मिलित हैं. अब लगभग सभी लोग बिहार पहुंच चुके हैं, इसलिए बाहर से लोगों के कॉल्स/मैसेजेज नहीं के बराबर आ रहे हैं.

किसानों की मदद की जा रही
सचिव, सूचना एवं जन-संपर्क ने बताया कि, असामयिक वर्षापात और ओलावृष्टि के कारण फरवरी, मार्च और अप्रैल महीने में किसानों की जो फसल हुई है, उसके लिए कृषि इनपुट अनुदान के तहत 730 करोड़ रुपए की राशि निर्गत की गई है. इसमें से अब तक 466 करोड़ रुपए की राशि 14 लाख 1 हजार किसानों के खाते में अंतरित की जा चुकी है, शेष किसानों के आवेदनों का निष्पादन तेजी से किया जा रहा है और जांचोपरांत यथाशीघ्र कृषि इनपुट अनुदान की राशि प्रभवित किसानों के खाते में भेज दी जाएगी.

रोजगार पर सरकार का विशेष ध्यान
उन्होंने बताया कि, रोजगार सृजन पर सरकार का विशेष ध्यान है और सभी संबंधित विभाग रोजगार सृजन को लेकर किए जा रहे कार्यों की निरंतर गहराई से अनुश्रवण कर रहे हैं. लॉकडाउन पीरियड से लेकर अभी तक 4 लाख 52 हजार से अधिक योजनाओं के अंतर्गत 5 करोड़ 79 लाख से अधिक मानव दिवसों का सृजन किया जा चुका है.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

पहली बार तीसरी आंख की नजर थी तो फुटेज से मिला सुराग, 12 माह में 8 घटनाएं

पटना15 मिनट पहलेकॉपी लिंकपटना मेडिकल कॉलेज में अक्सर होती हैं बच्चा चोरी की घटनाएं।सीसीटीवी फुटेज की मदद से परिजनों को मिला उनका बच्चाअक्सर मासूमों...

Bihar Chunav: शिक्षा की बात कर रहे हैं तेजस्वी, पर बड़ी मुश्किल से नौंवी तक पढ़ पाए थे

हाइलाइट्स:युवाओं के लिए शिक्षा की बात करने वाले तेजस्वी यादव हैं नौंवी पास विपक्षी दल तेजस्वी के 10 लाख लोगों को रोजगार देने के...

भंते ज्ञानज्योति इनकी धम्मदेसना |Talk Bhante GyanJyoti || धम्मचक्र प्रवर्तन दिन | दीक्षाभूमी

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Live Telecast | धम्मचक्र प्रवर्तन दिन Dr Ambedkar International Mission AWAAZ INDIA TV

MI vs RCB Highlights: मुंबई ने बैंगलोर को दी मात, प्लेऑफ की रेस में टॉप पर बरकरार

अबु धाबीरेकॉर्ड चार बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस ने आईपीएल-13 के 48वें मुकाबले में बुधवार को विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम रॉयल चैलेंजर्स...