Home बड़ी खबरें भारत दिल्ली में एक दिन में कोरोना से मौत का टूटा रिकॉर्ड, संक्रमितों...

दिल्ली में एक दिन में कोरोना से मौत का टूटा रिकॉर्ड, संक्रमितों का आंकड़ा 33 हजार के करीब पहुंचा

Delhi Coronavirus Cases: दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 33 हजार के करीब पहुंचा.

नई दिल्ली:

Delhi coronavirus Report: देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है. देश में कोरोनावायरस के 2 लाख 76 हजार से ज्यादा मामले हैं वहीं, अब तक 7700 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. इस बीच देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 33 हजार के करीब पहुंच गया है. दिल्ली में अभी कोरोना संक्रमितों के 32 हजार 810 मामले हैं. बीते 24 घंटे में दिल्ली में कोरोनावायरस के कुल 1501 मामले सामने आए हैं, वहीं इस दौरान 384 मरीज़ ठीक भी हुए हैं. अब तक कुल 12,245 मरीज़ ठीक हो चुके हैं. बीते 24 घंटों में 48 मरीजों की मौत हुई है जो 1 दिन में मरने वालों की सर्वाधिक संख्या है. 31 मौत पुरानी हैं, जिससे मौत का कुल आंकड़ा 905 से बढ़कर 984 पहुंच गया है. वहीं, दिल्ली में अभी फिलहाल 19581 एक्टिव मामले हैं.

यह भी पढ़ें

इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने बुधवार को डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस की. तबियत खराब होने पर सीएम केजरीवाल का कोविड-19 (COVID-19) टेस्ट कराया गया, जिसके बाद मंगलवार की शाम को रिपोर्ट निगेटिव आई. इस पर उन्होंने शुभकामनाएं देने वालों का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया. उन्होंने डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, ”आइसोलेशन में शरीर बंद था लेकिन मन इसी में लगा हुआ था कि और क्या-क्या करने की जरूरत है.”

प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत में केजरीवाल ने कहा, ”दिल्ली में 31,000 कुल मामले हो चुके हैं, 12,000 ठीक हो चुके हैं जबकि करीब 18000 अभी एक्टिव केस हैं. करीब 900 लोगों की मौत हो चुकी है. 18000 एक्टिव मामलों में से 15000 होम आइसोलेशन में हैं. कल DDMA की बैठक थी. मुझे जाना था मैं नहीं जा पाया, मनीष सिसोदिया जी और अन्य मंत्री गण गए थे. 

CM केजरीवाल ने कहा, ”वहां पर जो आंकड़े सरकार द्वारा प्रस्तुत किए गए वह आंकड़े दिखाते हैं कि आने वाले समय में दिल्ली में कोरोना बहुत तेजी से फैलेगा. 15 जून को 44,000 केस होने की संभावना है. 30 जून तक 1,00,000 केस हो जाएंगे. 15 जुलाई तक सवा दो लाख केस हो जाएंगे और 31 जुलाई तक लगभग 5,32,000 केस हो जाएंगे. इसको देखते हुए 15 जून तक हमें 6,681 बेड की जरूरत पड़ेगी. 31 जुलाई तक 80,000 बेड की जरूरत पड़ेगी. चुनौती बहुत बड़ी है.”

उन्होंने कहा, ”अब जनांदोलन बनाना होगा. मास्क पहनना, बार-बार हाथ धोना और सोशल डिस्टेंसिंग करनी है. जो ऐसा नहीं कर रहा उससे विनती करनी है कि आप कीजिए. क्योंकि जो नियमों का पालन नहीं कर रहा, वह दूसरो को फैल सकता है. जैसे ओड इवन में हमने जन आंदोलन किया था वैसे ही अब कोरोना में करना है.”

VIDEO: यह समय मतभेदों और आपसी झगड़ों का नहीं : अरविंद केजरीवाल

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Flipkart सेल में Poco का धमाल, बेच डाले 10 लाख से ज्यादा फोन

नई दिल्ली। स्मार्टफोन मेकर कंपनी पोको ने ऐलान किया है कि फ्लिपकार्ट सेल के दौरान ग्राहकों ने कंपनी के 10 लाख से ज्यादा स्मार्टफोन...

नहीं लगाया मास्क तो रावण के पुतले के साथ खींच दी जाएगी तस्वीर

फोटो नंबर 25 यूटीएम जागरण संवाददाता पश्चिमी दिल्ली कोरोना महामारी से बचाव में मास्क की काफी अहम भूमिका है पर अफसोस की बात है...

हर सांस में घुला जहर, प्रदूषण नियंत्रण को लेकर सरकार नहीं दिखती गंभीर

अनिल भारद्वाज, गुरुग्राम केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से लेकर डब्ल्यूएचओ व अमेरिका का पर्यावरण संरक्षण संगठन (ग्रीन पीस) से गुरुग्राम देश का...