Home राज्यवार झारखण्ड साइबर अपराध गिरोह का सरगना जीजा-साला गिरफ्तार

साइबर अपराध गिरोह का सरगना जीजा-साला गिरफ्तार

Publish Date:Wed, 17 Jun 2020 07:49 PM (IST)

गिरिडीह/गांडेय : साइबर पुलिस की टीम ने मंगलवार की रात छापेमारी कर साइबर अपराध गिरोह के दो सरगनाओं को दबोचते हुए बड़ी सफलता हासिल की है। दबोचे गए दोनों आरोपित रिश्ते में जीजा-साला हैं। इसमें मंटू मंडल अहिल्यापुर थाना क्षेत्र के घोसको चामलिटी गांव का रहनेवाला है और साइबर अपराध से अकूत संपत्ति अर्जित कर वहां से आकर महेशमुंड़ा बजरंगबली चौक के आगे आलीशान भवन बनाकर रह रहा था। मंटू के साथ गिरफ्तार उसके जीजा ननबैंकिग सह निजी बीमा कंपनी में बतौर एजेंट काम करता है, लेकिन इसकी आड़ में साइबर अपराध की घटना को अंजाम देकर काफी धन अर्जित की है। उसकी गिरफ्तारी साइबर डीएसपी संदीप सुमन समदर्शी के नेतृत्व में गई टीम ने गांडेय थाना क्षेत्र के महेशमुंडा बजरंगी बली चौक के समीप स्थित उसके घर में छापेमारी कर की है।

आरोपितों के पास से पुलिस की टीम ने वाहन, एक दर्जन से अधिक एंड्रायड व छोटा मोबाइल, लैपटॉप फर्जी एटीएम, पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासबुक के अलावा साइबर अपराध से जुड़े कागजात व अन्य सामान भी बरामद किया है। पुलिस दोनों आरोपितों को गिरफ्तार करने के बाद साइबर थाना में रखकर गहन पूछताछ कर रही है। पुलिस की इस सफलता व पूछताछ के बाद साइबर अपराध के मामले को लेकर एक बड़े गिरोह का खुलासा हो सकता है। गिरफ्तार दोनों आरोपित साइबर अपराध के मास्टरमाइंड हैं।

जामताड़ा में साइबर अपराध का प्रशिक्षण पाने के बाद बड़े-बड़े साइबर अपराध की घटनाओं को अंजाम देने में वे संलिप्त रहे हैं। यह भी जानकारी मिली है कि पुलिस गिरफ्त में आए दोनों में से एक आरोपित ने गिरोह के सदस्यों के साथ मिलकर बैंक से भी लाखों रुपये की हेराफेरी की है। दोनों जीजा व साला की गिरफ्तारी व उनके पास से साइबर अपराध में उपयोग किए जानेवाले सामानों की बरामदगी होने की पुष्टि साइबर डीएसपी ने देर शाम को की है।

बैंक का लिंक हैक कर लाखों की हेराफेरी

वैसे दबे स्वर में यह भी चर्चा की जा रही है कि गिरिडीह के बाहर किसी दूसरे जिले में स्थित एक बैंक शाखा की लिक को हैक कर बैंक की लाखों रुपये अपने गिरोह के सदस्यों के साथ मिलकर टपाने की घटना को भी अंजाम दिया था। हालांकि पुलिस अभी इसकी पुष्टि नहीं कर रही है।

– महेशमुंडा में फैलाया साइबर का जाल : साइबर अपराध के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपित मूलत: अहिल्यापुर के घोसको चामलिटी गांव के रहनेवाले हैं। ये जामताड़ा के अलावा गिरिडीह में साइबर अपराध की घटना को फर्जी बैंक अधिकारी बनकर अंजाम देते थे। साइबर अपराधियों पर पुलिस की हो रही कार्रवाई से बचने के लिए महेशमुंडा में एक व्यवसायी से जमीन खरीदकर उसमें लाखों रूपये की लागत से आलीशान मकान बनाया है। साथ ही घर में विलासिता संबंधी वस्तुओं को भी खरीदकर रखा है। वहीं साइबर अपराध से अर्जित राशि को दूसरे व्यापार में भी इंवेस्ट किया है। गिरिडीह-जामताड़ा मुख्य मार्ग से गुजरनेवाले हर राहगीर की नजर इस घर की भव्यता की ओर बर्बस ही खींच जाती है। गिरफ्तार आरोपित बीते कुछ वर्षों से महेशमुंडा में साइबर अपराध का जाल फैला रहा था जो नए नए युवाओं को साइबर अपराध से जुड़ने के लिए प्रशिक्षण देने का काम भी करता था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Mumbai News: बुलेट ट्रेन के लिए 8 कंपनियों ने लगाई बोली, टाटा और एलएनटी भी शामिल

मुंबईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना को हकीकत में बदलने के लिए आठ कंपनियों ने बोली लगाई है। यह योजना है मुंबई-अहमदाबाद हाई स्पीड...

ड्रग्स केस: NCB ऩे फिल्म डायरेक्टर क्षितिज रवि प्रसाद को पूछताछ के बाद हिरासत में लिया

मुंबई: एनसीबी के अधिकारियों ने कथित रूप से धर्मा प्रोडक्शन से जुड़े रहे डायरेक्टर क्षितिज रवि प्रसाद को पूछताछ के...

हाथरस ! बहुजन बेटी से बलात्कार, पहुँचे भीम सैनिक देखिए क्या होगा आज | #NawabSatpalTawar #Bahujan

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Bahujan HUB को आर्थिक मदद के लिए कृपया सहयोग करे ! UPI - [email protected] Let's Check out Bahujan Hub other Platform 👇 Facebook -...

Bihar Assembly Election: तो क्या RJD में खत्म हो रहा लालू युग? होर्डिंग्‍स व पोस्टरों से गायब होना क्या हैं संकेत?

पटना, जेएनएन। Bihar Assembly Election 2020: राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) ने कभी कहा था- जब तक...