Home राज्यवार दिल्ली इस बार भी भारी रहा दक्षिणी जोन का पलड़ा

इस बार भी भारी रहा दक्षिणी जोन का पलड़ा

Publish Date:Wed, 17 Jun 2020 10:20 PM (IST)

सुधीर कुमार, पूर्वी दिल्ली:

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के अहम पद किसे हासिल होंगे, इसका पटाक्षेप बुधवार को हो गया। निगम के इस कार्यकाल में महापौर पद के चुनाव में शाहदरा दक्षिणी जोन का पलड़ा इस बार भी भारी रहा और शाहदरा उत्तरी जोन इससे वंचित रह गया। वहीं स्थायी समिति में शाहदरा उत्तरी जोन इस बार बाजी मारने में सफल रहा। शाहदरा दक्षिणी जोन का इलाका जहां सांसद गौतम गंभीर का संसदीय क्षेत्र है वहीं शाहदरा उत्तरी जोन का इलाका सांसद व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी का है।

निगम के इस कार्यकाल में तीन साल तक शाहदरा दक्षिणी जोन से महापौर का चयन होता रहा है। इस बार संभावना जताई जा रही थी कि शाहदरा उत्तरी जोन से महापौर बनाया जाएगा। इस जोन से महापौर प्रत्याशी के रूप में प्रमोद गुप्ता का नाम प्रमुखता से लिया जा रहा था। लेकिन ऐसा नहीं हो पाया और चौथी बार भी शाहदरा दक्षिणी जोन से निर्मल जैन ही महापौर बनेंगे।

पिछले साल स्थायी समिति से शाहदरा उत्तरी जोन का दबदबा खत्म हो गया था लेकिन इस बार फिर से पुरानी स्थिति हो गई है। सत्यपाल सिंह दूसरी बार स्थायी समिति के चेयरमैन बनेंगे। वह पूर्वी निगम के ऐसे एकमात्र पार्षद हैं जो पांचों साल स्थायी समिति के सदस्य रहेंगे। तीन साल से वह सदस्य हैं और इस बार उन्होंने फिर से सदस्य के रूप में नामांकन दाखिल किया है। इसके पहले वह स्थायी समिति के चेयरमैन रह चुके हैं और इस बार के लिए भाजपा ने उनके नाम की घोषणा पहले ही कर दी है।

पूर्वी दिल्ली नगर निगम में दबंग नेता के रूप में जाने जाने वाले प्रवेश शर्मा इस बार फिर महत्वपूर्ण पद पर पहुंच चुके हैं। वह नेता सदन बनने के साथ ही स्थायी समिति के सदस्य भी बनेंगे। वह इसके पहले दो सालों तक स्थायी समिति के सदस्य रह चुके हैं और एक बार चेयरमैन रह चुके हैं। वर्तमान में वह शाहदरा उत्तरी जोन के चेयरमैन भी हैं। वार्ड समिति में महिलाओं का रहेगा दबदबा

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के दोनों जोन में इस बार महिलाओं के खाते में ज्यादा पद गए हैं। जहां शाहदरा दक्षिणी जोन का चेयरमैन भावना मलिक को बनाया जाएगा वहीं डिप्टी चेयरपर्सन के रूप में शशि के नाम की घोषणा की गई है। इस बार जोन महिलाओं के हाथों में रहेगा। विशेष बात यह है कि अभी तक इस जोन की बागडोर महिला पार्षद कंचन महेश्वरी के हाथों में ही है। शाहदरा उत्तरी जोन में डिप्टी चेयरपर्सन का पद दुर्गेश तिवारी को दिया गया है। उन्हें पूर्वांचल कोटे से यह पद मिला है। इनके ससुर लाल बिहारी तिवारी सांसद व दिल्ली के पूर्व मंत्री रह चुके हैं। गुप्त मतदान का रहा अहम योगदान

इस बार निगम के सभी पदों के प्रत्याशियों के चयन के लिए गुप्त मतदान की प्रक्रिया अपनाई गई थी, जिसमें पार्षद, विधायक, सांसद और जिलाध्यक्षों से प्राथमिकता सूची ली गई थी। इस मतदान प्रक्रिया में सात से आठ नाम निकल कर आए थे। पार्टी सूत्रों का कहना है कि सातों अहम पद उन्हीं लोगों को दिए गए हैं, जो प्राथमिकता सूची में थे। यह अलग बात है कि जो छठे नंबर पर आया उसे तीसरे नंबर का और दूसरे नंबर पर आने वाले को चौथे नंबर का पद मिल गया। लेकिन इसमें ज्यादा बदलाव नहीं किया गया है। बड़े नेताओं की अनुशंसा पर चयनित सात नामों की प्राथमिकता सूची में थोड़ा बदलाव किया गया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के टैक्स के नाम पर फर्जी रसीद काट रहे ठग, ऐसे हुआ खुलासा

देवेंद्र सिंह, भरतपुर: जिले की राजस्थान सीमा में से गुजरने वाले वाहन चालकों से उत्तर प्रदेश परिवहन विभाग के टैक्स के नाम पर फर्जी...

IPL 2020: रोहित शर्मा ने एक बार फिर प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने जवाब से किया सबको दंग

लिमिटेड ओवर फॉर्मैट में टीम इंडिया के उप-कप्तान और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी टीम मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा प्रेस...

IPL में खड़ा हुआ नया विवाद, अंपायर के गलत फैसले पर गुस्साई प्रीति जिंटा, बोलीं- ‘हर साल…’

IPL 2020 DC Vs KXIP: अंपायर के गलत फैसले पर गुस्साई प्रीति जिंटा, बोलीं- 'हर साल यही होता है...'IPL 2020 DC Vs KXIP: आईपीएल...

महाराष्ट्र: पूरी क्षमता के साथ चलेंगी एमएसआरटीसी की बसें

डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।भाषा | Updated: 17 Sep 2020,...