Home कोरोना वायरस दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के मामलों का बना रिकॉर्ड,...

दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के मामलों का बना रिकॉर्ड, संक्रमितों का आंकड़ा 47 हजार के पार

Delhi Coronavirus Cases: दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 47 हजार के पार पहुंचा.

नई दिल्ली:

Delhi Covid-19 Update: देश में कोरोना का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोनावायरस (COVID-19) से 3 लाख 54 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और करीब 12 हजार लोगों की अब तक जान जा चुकी है. इस बीच देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 47 हजार के पार पहुंच गया है. दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोनावायरस के 2414 मामले सामने आए जो एक रिकॉर्ड है. इसके साथ ही यहां संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 47,102 पहुंच गया है. बीते 24 घंटों में 510 मरीज ठीक हुए हैं और इसका आंकड़ा 17,457 हो गया है. वहीं, बीते 24 घंटों में 67 लोगों की जान गई है और मौत का आंकड़ा 1904 पहुंच गया है. 

यह भी पढ़ें

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सभी मुख्यमंत्रियों से अब अनलॉक2 (Unlock2) की तैयारी शुरू करने को कहा है. उनका कहना है कि इस दौरान आर्थिक गतिविधियां और तेज करनी होंगी. पीएम मोदी ने कहा कि “कोरोना के बढ़ते हुए मरीजों की संख्या को देखते हुए… हमें टेस्टिंग पर और अधिक बल देना है, ताकि संक्रमित व्यक्ति को हम जल्द से जल्द ट्रेस, ट्रैक और आइसोलेट कर सकें. हमें इस बात का भी ध्यान रखना है कि हमारी अभी की जो मौजूदा टेस्टिंग क्षमता है उसका पूरा इस्तेमाल हो और निरंतर उसका विस्तार भी किया जाए.” देश में कोरोना के बढ़ते मामलों पर 15 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ समीक्षा बैठक में प्रधानमंत्री ने यह महत्वपूर्ण बात कही. 

देश के कई हिस्सों से बेड की कमी की शिकायत की तरफ इशारा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि क्वारंटाइन और आइसोलेशन सेंटर पर्याप्त होने चाहिए जिससे कहीं पर भी मरीजों को बेड की दिक्कत न हो. साथ ही संक्रमण के डर से पैदा हुए स्टिगमा से नागरिकों को कैसे बाहर निकला जाए इसके लिए प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से विशेष पहल शुरू करने को कहा.  

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, “ये वास्तविकता है कि कोरोना का फैलाव कुछ बड़े राज्यों, बड़े शहरों में अधिक है. कुछ शहरों में अधिक भीड़, छोटे-छोटे घर, गलियों-मोहल्लों में फिजिकल डिस्टेंसिंग की कमी, हर रोज हजारों लोगों की आवाजाही, इन बातों ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को और चुनौतीपूर्ण बना दिया है. फिर भी… समय पर ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट और रिपोर्टिंग के कारण हमारे यहां संक्रमण से रिकवर होने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. ये राहत की बात है कि ICU और वेंटिलेटर केयर की ज़रूरत भी बहुत कम मरीजों को पड़ रही है.”   

प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से कहा कि वे अनलॉक-2 की तैयारी शुरू करें. लॉकडाउन को लेकर जो अटकलें हैं, उन्हें ख़त्म करना जरूरी है. आर्थिक गतिविधियां तेज़ की जाएं लेकिन साथ ही सुनिश्चित भी किया जाए कि आम लोगों को कम से कम नुकसान हो. 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बाहर के खाने से अभी भी डर रहे लोग, शहर के 50 फीसदी फूडकोर्ट और रेस्टोरेंट बंद

नोएडा लॉकडाउन के बाद नोएडा के रेस्टोरेंट और फूडकोर्ट का कारोबार भी संघर्ष की स्थिति से गुजर रहा है। शहर की रेस्टोरेंट असोसिएशन के...

योगी आदित्यनाथ सरकार का ऑपरेशन दुराचारी भी एंटी-रोमियो स्क्वॉड की ही तरह एक खराब फैसला है

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ | फाइल फोटो, एएनआई. Text Size: A- A+ ...

Bihar Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का आज हो सकता है ऐलान, 12.30 बजे होगी EC की प्रेस कॉन्फ्रेंस

नई दिल्ली, एएनआई। बिहार में विधानसभा चुनाव का आज ऐलान हो सकता है। चुनाव आयोग ने आज दोपहर 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई है।...