Home बड़ी खबरें भारत PM-किसान स्कीम: एक घर में कई लोगों को मिल सकता है 6000...

PM-किसान स्कीम: एक घर में कई लोगों को मिल सकता है 6000 रुपये का फायदा, कंडीशन अप्लाई

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम (Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi scheme) का लाभ प्रवासी मजदूरों (Migrants workers) को भी मिल सकता है. लेकिन उन्हें सभी शर्तें पूरी करने होंगी. एक घर में कई लोगों को इसका फायदा मिल सकता है बशर्ते वो बालिग हों और राजस्व रिकॉर्ड में उनका नाम दर्ज हो. केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने न्यूज18 हिंदी से बातचीत में कहा कि ‘शर्तें पूरी करने वाला मजदूर रजिस्ट्रेशन करवाए, सरकार पैसा देने का तैयार है. मजदूर के नाम पर कहीं खेत होना चाहिए.

अब रजिस्ट्रेशन के लिए कहीं जाने की जरूरत नहीं, खुद ही स्कीम की वेबसाइट पर जाकर इसके फार्मर कॉर्नर के जरिए आवेदन किया जा सकता है.इसमें खासतौर पर रेवेन्यू रिकॉर्ड में नाम और बालिग होना जरूरी है. अगर किसी का नाम खेती के कागजात में है तो उसके आधार पर वो अलग से लाभ ले सकता है. भले ही वो संयुक्त परिवार का हिस्सा ही क्यों न हो.

आपको बता दें कि पीएम किसान स्कीम के का बजट 75 हजार करोड़ रुपये का है. मोदी सरकार सालाना 14.5 करोड़ लोगों को पैसा देना चाहती है. लेकिन रजिस्ट्रेशन अभी 10 करोड़ का भी नहीं हुआ है. इसके कुल लाभार्थी सिर्फ 9.65 करोड़ हैं. जबकि स्कीम शुरू हुए 17 माह बीत चुके हैं. ऐसे में अगर शहर से गांव आने वाले लोग इसके तहत रजिस्ट्रेशन करवाते हैं तो उन्हें लाभ मिल सकता है.

अभी करीब 5 करोड़ किसान इस स्कीम से वंचित हैं.

खेती से जुड़े हैं ज्यादातर प्रवासी मजदूर-राष्ट्रीय किसान महासंघ के संस्थापक सदस्य विनोद आनंद का कहना है कि शहरों से गांव गए ज्यादातर लोग अब कृषि कार्य में जुटेंगे या फिर वे मनरेगा के तहत कहीं काम करेंगे. ऐसे में जिसके पास खेती है वो पहले अपना रजिस्ट्रेशन किसान सम्मान निधि के लिए करवा ले. इसके तहत हर साल 6000 रुपये मिल रहे हैं. किसान संगठन और कृषि वैज्ञानिक लगातार इसे बढ़ाने का दबाव बना रहे हैं.

इन शर्तों को करना होगा पूरा- खेती की जमीन के कागजात के अलावा पीएम किसान स्कीम का लाभ लेने के लिए बैंक अकाउंट नंबर और आधार नंबर होना जरूरी है.  इस डेटा को राज्य सरकार वेरीफाई करती है तब केंद्र सरकार पैसा भेजती है.

इस टेलीफोन नंबर से लें जानकारी

पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम की ऑफीशियल वेबसाइट (pmkisan.gov.in) है. बेवसाइट को लॉग इन करना होगा. इसमें दिए गए ‘ Farmers Corner’ वाले टैब में क्लिक करना होगा.

अगर आपने पहले आवेदन किया है और आपका आधार (Aadhaar) ठीक से अपलोड नहीं हुआ है या किसी वजह से आधार नंबर गलत दर्ज हो गया है तो इसकी जानकारी इसमें मिल जाएगी.

-फार्मर कॉर्नर में किसानों को खुद को ही पीएम किसान योजना में रजिस्टर्ड करने का भी विकल्प दिया गया है.

-इसमें सरकार ने सभी लाभार्थियों की पूरी सूची अपलोड कर दी है. आपके आवेदन की स्थिति क्या है. इसकी जानकारी किसान आधार संख्या/ बैंक खाता/ मोबाइल नंबर के जरिए मालूम कर सकते हैं.

-जिन किसानों को इस योजना का लाभ सरकार की तरफ से दिया गया है उनके भी नाम राज्य/जिलेवार/तहसील/गांव के हिसाब से देखे जा सकते हैं.

सीधे मंत्रालय से संपर्क करने की सुविधा

चूंकि यह मोदी सरकार की सबसे बड़ी किसान स्कीम है इसलिए किसानों को कई तरह की सहूलियतें भी दी गईं हैं. इसी में एक है हेल्पलाइन नंबर. जिसके जरिए देश के किसी भी हिस्से का किसान सीधे कृषि मंत्रालय से संपर्क कर सकता है.

पीएम किसान टोल फ्री नंबर: 18001155266

पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर:155261

पीएम किसान लैंडलाइन नंबर्स: 011—23381092, 23382401

पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन है: 0120-6025109

ई-मेल आईडी: [email protected]

ये भी पढ़ें: मोदी सरकार ने 2 साल पहले ही लिख दी थी कृषि क्षेत्र में बड़े सुधार की स्क्रिप्ट

जानिए कैसे-कौन और कहां बनेगा आपका किसान क्रेडिट कार्ड



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Corona [email protected]: झारखंड में आज 78 कोरोना पॉजिटिव, अबतक 3096; जानें ताजा हाल

Publish Date:Wed, 08 Jul 2020 09:51 PM (IST) रांची, राज्‍य ब्‍यूरो।  Coronavirus in Jharkhand News Update झारखंड में बुधवार को अबतक 40 कोरोना पॉजिटिव...

बाबा साहब #आंबेडकर के निवास स्थान पर हुई तोड़फोड़, भड़के भीम आर्मी प्रमुख आज़ाद

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Join On Telegram Join On Facebook भीम आर्मी सॉन्ग, भीम आर्मी चंद्रशेखर आजाद, भीम आर्मी सोंग, भीम आर्मी के गाने, भीम आर्मी चंद्रशेखर आजाद की पिटाई, भीम आर्मी...

पंजाब: बेअदबी कांड में गुरमीत राम रहीम की नामजदगी, राजनीतिक दलों में हड़कंप 

बहुचर्चित डेरा सच्चा सौदा सिरसा और इसके मुखी गुरमीत राम रहीम सिंह का नाम अब नए विवाद में सामने आया है। श्री गुरु ग्रंथ...

देशभर में सबसे ज्यादा क्राइम यूपी में दर्ज होते हैं; ड्यूटी में सबसे ज्यादा जान भी यहीं के पुलिसवालों की गई

2018 में देश में 50.74 लाख से ज्यादा आपराधिक मामले दर्ज हुए थे, उसमें से 11.5% यानी 5.85 लाख मामले यूपी में रिकॉर्ड हुएमहिलाओं...