Home बड़ी खबरें भारत दिल्ली में आज से नई तकनीक 'रैपिड एंटीजन टेस्ट' से कोरोना टेस्टिंग...

दिल्ली में आज से नई तकनीक ‘रैपिड एंटीजन टेस्ट’ से कोरोना टेस्टिंग शुरू, 15 मिनट में आ जाएगा नतीजा

कोरोनावायरस टेस्टिंग की इस तकनीक में 15 से 30 मिनट के अंदर नतीजा आ जाता है.

खास बातें

  • दिल्ली में आज से टेस्टिंग की नई तकनीक का इस्तेमाल
  • रैपिड एंटीजन टेस्ट से होगी कोरोना की टेस्टिंग
  • RTPC कोरोना टेस्टिंग के दाम भी घंटेंगे

नई दिल्ली:

दिल्ली में गुरुवार से नई टेस्टिंग तकनीक ‘रैपिड एंटीजन टेस्ट’ (Rapid Antigen Test) के जरिए कोरोनावायरस की टेस्टिंग (Coronavirus Testing) शुरू हो गई है. फिलहाल ICMR (Indian Council of Medical Research) ने इस तकनीक को केवल कंटेनमेंट जोन और अस्पताल या क्वॉरेंटाइन सेंटर में इस्तेमाल करने की इजाजत दी है. इसका इस्तेमाल कहीं और नहीं होगा. दक्षिण पश्चिम दिल्ली के द्वारका सेक्टर 4 के रत्नाकर अपार्टमेंट में 30 मई को 3 कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आने के बाद कन्टेनमेंट जोन बनाया गया था. गुरुवार को प्रशासन ने इस अपार्टमेंट में रहने वाले सभी लोगों को इस तकनीक के ज़रिए टेस्ट कराने के लिए बुलाया और टेस्ट किया है.

यह भी पढ़ें

 यह नई तकनीक कोरोना के खिलाफ लड़ाई में बड़ा बदलाव ला सकती है. इससे टेस्टिंग की प्रक्रिया तेज होगी, मरीजों का पता जल्दी चलेगा, जिससे कि उनको इलाज जल्दी मिल जाएगा. यह टेस्टिंग इसलिए बहुत खास है क्योंकि आमतौर पर कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट 1-2 दिन में आती है जबकि इस तकनीक में 15 से 30 मिनट के अंदर नतीजा आ जाता है. इस नई टेस्टिंग तकनीक के तहत अगर किसी शख्स की रिपोर्ट नेगेटिव आती है तो उसकी पुष्टि RTPC टेस्ट से की जाती है. अगर कोई शख्स पॉजिटिव आता है तो उसे पॉजिटिव मान लिया जाता है. इसके दाम तय करने की ऐसी कोई जानकारी नहीं है क्योंकि यह टेस्ट खुद सरकार करा रही है.

क्या है तकनीक?

इस तकनीक में व्यक्ति की नाक की दोनों तरफ़ से फ्लूइड का सैंपल लिया जाता है. फिर उसको पास ही मौजूद एक मोबाइल बैन के अंदर बनी छोटी से लेबोरेटरी के अंदर टेस्ट किया जाता है. अगर टेस्टिंग स्ट्रिप पर एक लाइन आती है तो इसका मतलब नेगेटिव होता है. लेकिन उसको पुख्ता तौर पर नेगेटिव नहीं माना जा सकता और कन्फर्म करने के लिए RT-PCR टेस्ट ज़रूरी होता है. अगर दो लाल लकीर दिखाई देती हैं तो इसका मतलब व्यक्ति पॉजिटिव है जिसको पुख्ता तौर पर पॉजिटिव मान लिया जाएगा. लेकिन अगर कोई लकीर नहीं देखती तो इसका मतलब टेस्ट बेनतीजा है. इस तकनीक में टेस्ट का नतीजा 15 से 30 मिनट के अंदर आ जाता है. इस तकनीक को साउथ कोरिया की मानेसर स्थित कंपनी ने तैयार किया है.

दिल्ली सरकार तैयार कर रही शेड्यूल

दिल्ली में 20 जून से रोजाना करीब 18 हजार कोरोना टेस्ट कराने की योजना है जिसमें इस तकनीक को सभी मौजूदा 247 कंटेनमेंट जोन में इस्तेमाल किया जाएगा. केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण इस तकनीक के जरिए किए जाने वाले टेस्ट के लिए पूरा शेड्यूल तैयार कर रहा है यानी कब, कहां, कितने टेस्ट कराए जाने का लक्ष्य है यह तय किया जा रहा है. 

हालांकि, बता दें कि इसके पहले एक ‘रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट’ भी शुरू किया गया था, लेकिन उसका ट्रायल सफल नहीं रहा था. कई राज्यों की ओर से शिकायतें आई थीं कि इस टेस्टिंग तकनीक में 90 फीसदी नतीजे गलत आ रहे हैं, जिसके बाद फिर से RTPC टेस्ट पर ही भरोसा किया जा रहा था. ऐसे में देखना होगा कि यह नई तकनीक कितनी सफल रहती है. 

वीडियो: दिल्ली में आज से शुरू कोरोना रैपिड टेस्ट

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहार : ग्रामीण बच्चों को खेल-खेल में शिक्षित कर रही ‘शिक्षा सहेली मां’

मुजफ्फरपुर: एक ओर जहां कोरोना संक्रमण काल में बिहार में सरकारी और निजी स्कूलों द्वारा बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई कराई जा रही है वहीं...

एक दिन में रिकॉर्ड 22721 मरीज बढ़े, अब तक 6.45 लाख मामले; तमिलनाडु में मरीजों का आंकड़ा एक लाख तो उत्तरप्रदेश में 25 हजार के पार

देश में कोरोना से अब तक 18 हजार 669 मौतें हुईं, महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 8376 की जान गईशुक्रवार को सबसे ज्यादा 3515 मरीज...

‘हां, ये सब मैंने किया है’: दर्जनों महिलाओं से बलात्कार और हत्याओं का अपराध कबूल करने वाले ‘गोल्डेन स्टेट किलर’ की पूरी कहानी

Highlights1976 से 1986 के बीच यह नकाबपोश कैलिफोर्निया में कुख्यात होने के साथ ही दहशत का दूसरा नाम बन चुका था।इसे ईस्ट एरिया रेपिस्ट...

NEET JEE Main News: क्या हुआ एग्जाम का? जानिए सारा अपडेट

Edited By M Salahuddin | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 03 Jul 2020, 04:46:00 PM IST सांकेतिक तस्वीरदेश में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले तेजी...

देखिये, आषाढ़ी पूर्णिमा को अपने उपदेश में बुद्ध ने क्या कहा था | Dalit Dastak

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Support our work! Click here: "दलित दस्तक" (Magazine) नीचे के लिंक से सब्सक्राइब करें। घर बैठे रजिस्ट्री से पाएं।...