Home राज्यवार बिहार गंडक नदी में जलस्तर बढ़ने से मंडराया खतरा, दबाव पड़ने पर टूट...

गंडक नदी में जलस्तर बढ़ने से मंडराया खतरा, दबाव पड़ने पर टूट सकता है बांध

Edited By Sudhendra Singh | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

गंडक बराज

बगहा/नागेन्द्र नारायण

बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में लगातार रुक रुक कर हो रही बारिश की वजह से नेपाल से भारतीय सीमा (Indian border) में प्रवेश करने वाली नारायणी गंडक नदी का जलस्तर बढ़ने लगा है। महज़ दो दिनों में 1 लाख 19 हज़ार से बढ़कर 1.63 लाख क्यूसेक पानी गंडक बराज नियंत्रण कक्ष द्वारा छोड़ा गया है, जिससे नदी में उफान आ गया है। वहीं पड़ोसी देश नेपाल अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। नेपाल अब सीमावर्ती बिहार की सिंचाई और बाढ़ निरोधक योजनाओं में लगातार दखल दे रहा है। वाल्मीकिनगर में लॉकडाउन की मियाद पूरी होने पर भी गंडक बराज पर नदी के राइट साइड के एफ्लक्स बांध की मरम्मत का अनुमति नेपाल नहीं दे रहा है। अगर बांध पर पानी का दबाव बढ़ा तो बांध टूट सकता है क्योंकि बांध के मरम्मत का काम शुरू होने से पहले ही लॉकडाउन शुरू हो गया था। हालाकि जल संसाधन विभाग के अधिकारी इसके लिए लगातार संपर्क में हैं।
वॉटर लेवल की निगरानी में जुटी हैं टीमें

बिहार सरकार में जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता ने बताया कि गंडक बराज नियंत्रण कक्ष से मैकेनिकल, सिविल और इलेक्ट्रिकल की तीन संयुक्त टीम पल पल वॉटर लेवल की निगरानी में जुटी हैं। बराज की सीसीटीवी कैमरों से भी मॉनिटरिंग की जा रही है। इधर, बांध की मरम्मत के लिए बिहार के अधिकारी गंभीर हैं, लेकिन इसको नेपाल हल्के में ले रहा है। बिहार के जल संसाधन विभाग के अधिकारी लगातार संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं. इसको लेकर कई बार पत्र भी लिखा गया है, लेकिन, नेपाल लॉकडाउन का कारण बताकर पल्ला झाड़ रहा है।

गंडक बराज के हैं कुल 36 फाटक

हालांकि, निरीक्षण के दौरान मुख्य अभियंता ने ‘ऑल इस वेल’ का दावा तो जरूर किया है। इसके बावजूद दबाव की स्थिति में बाढ़ और कटाव जैसे हालात से इनकार नहीं किया जा सकता है। बता दें, इंडो-नेपाल सीमा पर स्थित गंडक बराज के कुल 36 फाटक हैं। इसमें आधा 18 फाटक नेपाल के हिस्से में पड़ते हैं। वहीं, भारत के हिस्से में पड़ने वाले बांध की मरम्मत हो चुकी है, लेकिन नेपाल सीमा एरिया में पड़ने वाले बांध का मरम्मत काम बाकी है।

भारी बारिश होन के बाद बांध पर बढ़ेगा पानी का दबाव

बिहार में मानसून के शुरुआत में अनुमान से ज्यादा बारिश हो रही है। भारी बारिश होने के बाद बांध पर पानी का दबाव बढ़ेगा। ऐसे में अगर नेपाल की ओर राइुट एफ्लक्स बांध टूटा तो, भारी नुकसान बिहार को भी हो सकती है। वहीं इंडो नेपाल सीमा पर स्थित वाल्मीकिनगर गंडक बराज नियंत्रण कक्ष से नदी और फाटक समेत जलस्तर बढ़ने की निगरानी में टीम जुटी हुई है। फ़िलहाल सब कुछ सामान्य होने का दावा किया जा रहा है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

कानपुर मुठभेड़ के बाद एक्शन में पुलिस, विकास दुबे के साथी दया शंकर अग्निहोत्री मुठभेड़ में गिरफ्तार

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200 ख़बर सुनें ख़बर सुनें कानपुर मुठभेड़ के बाद...

Alert: कनॉट प्‍लेस में तैनात हुआ सिविक वार्डन दस्‍ता, पब्‍लिक प्‍लेस पर थूकने वाले हो जाएं होशियार

Publish Date:Thu, 02 Jul 2020 05:22 PM (IST) नई दिल्‍ली (निहाल सिंह)। कोरोना महामारी के कारण पूरे देश में कुछ नियमों का पालन अनिवार्य...

भासपा कार्यकर्ताओं ने बैलगाड़ी चलाकर किया पेट्रोल मूल्य वृद्िध का विरोध

{"_id":"5efcc5528ebc3e42e117487a","slug":"bhaspa-activists-protested-against-price-hike-of-petrol-diesel-by-touring-on-bullock-cart-ballia-news-vns5333797184","type":"story","status":"publish","title_hn":"u092du093eu0938u092au093e u0915u093eu0930u094du092fu0915u0930u094du0924u093eu0913u0902 u0928u0947 u092cu0948u0932u0917u093eu0921u093cu0940 u091au0932u093eu0915u0930 u0915u093fu092fu093e u092au0947u091fu094du0930u094bu0932 u092eu0942u0932u094du092f u0935u0943u0926u094du093fu0927 u0915u093e u0935u093fu0930u094bu0927","category":{"title":"City & states","title_hn":"u0936u0939u0930 u0914u0930 u0930u093eu091cu094du092f","slug":"city-and-states"}} डीजल पेट्रोल मूल्य वृद्धि के खिलाफ बैलगाड़ी पर सवार को...

हिन्दुस्तान एक्सक्लूसिव: दिल्ली-एनसीआर में लापता हुए 1589 कोरोना संक्रमितों ने मुसीबत बढ़ाई

दिल्ली-एनसीआर में जहां कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। वहीं, 1589 गायब कोरोना पॉजिटिव मरीजों ने नई मुसीबत खड़ी कर दी...