Home बड़ी खबरें भारत कोरोना संक्रमित मरीज का शव जेसीबी के जरिए पहुंचाया गया श्मशान घाट,...

कोरोना संक्रमित मरीज का शव जेसीबी के जरिए पहुंचाया गया श्मशान घाट, सियासी घमासान हुआ तेज

JCB के जरिए ले जाया गया शव

हैदराबाद:

आंध्र प्रदेश में 72 वर्षीय कोरोना संक्रमित बुजुर्ग का शव उसके घर से श्मशान घाट तक एक जेसीबी मशीन के जरिए पहुंचाया गया. इस घटना को लेकर विपक्ष ने हंगामा मचा दिया है जिसके बाद राज्य का सियासी पारा गर्मा गया है. घटना सामने के बाद दो अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है. बता दें कि नगर निगम का पूर्व कर्मचारी डोर-टू-डोर सर्वे हेल्थ सर्वे के दौरान कोरोना पॉजिटिव हो गया था. जिसकी मौत श्रीकुलुम जिले के पसाला गांव में हो गई थी. जिसका एक वीडियो सामने आया था. इस वीडियो में कर्मचारी PPE किट पर नजर आ रहे हैं जबकि जेसीबी के आगे वाले हिस्से पर शव को रखा गया है. बुजुर्ग की मौत के बाद पड़ोसियों ने चिंता जाहिर की थी कि शव की वजह से आस-पास के इलाकों में कोरोना का संक्रमण फैल सकता है. 

यह भी पढ़ें

इस वीडियो के वायरल होने के बाद मुख्यमंत्री दफ्तर ने इसे अमानवीय करार देते हुए कहा कि शव को श्मशान तक पहुंचाने के लिए नियमों का पालन किया जाना जरूरी है जोकि नहीं किया गया. वहीं आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन रेड्डी ने आरोपियों के खिलाफ सख्त एक्शन लेने की आश्वासन दिया है. उन्होंने कहा कि यह अमानवीय है,अधिकारियों का साफ निर्देश दिए गए हैं कि इस तरह के मामलों में किस तरह से कदम उठाने हैं. 

आंध्र प्रदेश सरकार ने श्रीकुलुम के मजिस्ट्रेट को घटना की जांच करने के आदेश दिए हैं. साथ ही मुंसीपल कमिश्नर नागेंद्र कुमार और सैनिटरी इंस्पेक्टर एन राजीव को बर्खास्त कर दिया है. वहीं इस मामले पर सियासी संग्राम भी छिड़ गया है. पूर्व मुख्यमंत्री और टीडीपी के नेता चंद्रबाबू नायडू ने भी इस घटना पर शोक जताते हुए राज्य सरकार की जमकर आलोचना की. उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित शव को प्लास्टिक में लपेटकर जेसीबी से ले जाते हुए देखना बेहद दुखद है. वह मरने के बाद भी सम्मान के हकदार हैं. जगन सरकार को इस अमानवीय घटना पर शर्म आनी चाहिए. बताते चलें कि पिछले दिनों भी आंध्र प्रदेश में ऐसा ही एक मामला सामने आया था जब कोविड-19 संक्रमित एक महिला का शव ट्रैक्टर पर देखा गया था. 

Video: Rang De ने आंध्र प्रदेश के इमली किसानों तक पहुंचाई मदद



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

नोएडा: एसडीएम सदर में संक्रमण की पुष्टि, आनंद श्रीनेत को सौंपा गया अतिरिक्त कार्यभार

माई सिटी रिपोर्टर, ग्रेटर नोएडा Updated Mon, 06 Jul 2020 12:33 PM IST कोरोना वायरस (फाइल फोटो) - फोटो : शुभम बंसल पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं...

निजी ट्रेन परिचालक पसंदीदा सीट, विज्ञापन से प्राप्त आय समेत सकल राजस्व रेलवे के साथ करेंगे साझा

नयी दिल्ली, सात जुलाई (भाषा) निजी रेलगाड़ियां चलने के बाद उसमें एयरलाइन की तरह यात्रियों को पसंदीदा सीट, सामान और यात्रा के दौरान सेवाओं...

कोविड-19 से प्रभावित अर्थव्यवस्था को गति देने को 50-60 लाख करोड़ रुपये के विदेशी निवेश की जरूरत: गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कोरोना वायरस से प्रभावित अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए भारत को 50 से 60 लाख करोड़...

‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’ को 20 साल पूरे, एकता बोलीं- गुजरात भूकंप के वक्त लोगों ने टीवी बाहर रख इसे देखा था

दैनिक भास्करJul 03, 2020, 07:35 PM ISTभारत में टेलीविजन की दुनिया को बदलकर रख देने वाले और एकता कपूर को छोटे पर्दे की महारानी बनाने...

पहली 10 हजार मौतें होने में 97 दिन लगे थे, जान गंवाने वालों की तादाद 19 दिनों में 10 हजार से 20 हजार पहुंच गई

देश में पहली मौत 11 मार्च को कर्नाटक में हुई थी, दुनिया के सबसे ज्यादा संक्रमित देशों में अब भारत में मौत की रफ्तार...