Home राज्यवार बिहार कोरोना काल में एहतियात के साथ होगा बिहार चुनाव, आयोग ने बनाया...

कोरोना काल में एहतियात के साथ होगा बिहार चुनाव, आयोग ने बनाया ये प्लान

  • बिहार चुनाव टालने को तैयार नहीं चुनाव आयोग
  • बदलाव और एहतियात के साथ विधानसभा चुनाव

कोरोना संकट के बीच बिहार विधानसभा चुनाव की सुगबुगाहट शुरू हो गई है. राजनीतिक सरगर्मियों और कोरोना वायरस संकट के बीच चुनाव आयोग विधानसभा चुनाव कराने की तैयारी में नजर आ रहा है. मौजूदा हालात में वह बिहार विधानसभा चुनाव टालने की नहीं सोच रहा है.

बिहार पहला ऐसा राज्य होगा, जहां कोरोना काल में हुए बदलाव और एहतियात के साथ चुनाव होगा. देश के लोकतांत्रिक इतिहास में पहली बार 65 साल से अधिक आयु वाले बुजुर्ग, दिव्यांग और कोरोना के मरीज मतदाता बैलेट पेपर से डाक के जरिये राज्य की विधानसभा के 243 सदस्यों को चुनने के लिए अपना मतदान कर सकेंगे.

चुनाव आयोग ने ये संकेत तो दे दिए हैं कि मौजूदा हालात में वह बिहार विधानसभा चुनाव टालने की नहीं सोच रहा है. क्योंकि बिहार विधानसभा चुनाव अक्टूबर मध्य से नवम्बर के पहले हफ्ते के दरम्यान होने हैं. इस साल नवम्बर मध्य में दिवाली है. लिहाज़ा आयोग इससे पहले ही यानी थोड़ा जल्दी चुनाव करा सकता है.

बिहार चुनाव से पहले कंफ्यूजन में जीतन राम, महागठबंधन में जाएं या एनडीए?

बिहार में दिवाली के बाद अगले पूरे पखवाड़े छठ, गोपाष्टमी और कार्तिक पूर्णिमा जैसे त्योहारों की सीरीज रहती है. लिहाज़ा आयोग त्योहारी सीजन शुरू होने से पहले ही चुनाव कराना चाहेगा. आयोग के सूत्रों के मुताबिक चुनाव कम से कम पांच चरणों में होंगे. दिन छोटे होंगे, लिहाजा मतदान की अवधि भी अधिकतम होगी यानी सूर्योदय से दिन ढलने तक.

आकार ले रहा नया मोर्चा

फिलहाल, बिहार में विधानसभा चुनावों से पहले नया मोर्चा आकार ले रहा है. जानकारी के मुताबिक विपक्षी दल बीजेपी-जेडीयू गठबंधन के खिलाफ एक मजबूत गठबंधन बनाने के लिए काम कर रहे हैं. बता दें कि इस साल अक्टूबर में बिहार के विधानसभा चुनाव होने हैं. जिसके लिए प्रदेश की सभी राजनीतिक पार्टियों ने जोड़-तोड़ करनी अभी से शुरू कर दी है.

विधानसभा चुनाव से पहले बिहार में बन सकता है नया मोर्चा, यशवंत सिन्हा ने शुरू की कवायद

बताया जा रहा है पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने बीजेपी और जेडीयू गठबंधन के खिलाफ एक एकजुट मोर्चा बनाने का प्रयास किया है. आरजेडी, कांग्रेस और अन्य दलों को एक साथ लाने के लिए बातचीत चल रही है. बिहार प्रवासियों के बीच कुशासन और विनाश के मुद्दे को उठाने के लिए मोर्चा बनाने की योजना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android IOS



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

विकास दुबे हत्या के बाद जलाना चाहता था पुलिस वालों के शव, बताया DSP को क्यों मारा

उत्तर प्रदेश के हिस्ट्रीशीटर गैंगस्टर विकास दुबे को पुलिस ने मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस...

Vikas Dubey Kanpur Encounter: विकास दुबे मामले में क्या फंस जाएगी पुलिस, एनकाउंटर पर क्या कहता है कानून

जिस अस्पताल में रखा है विकास दुबे का शव, वहां से एनकाउंटर की पूरी कहानीहाइलाइट्सपहले विकास दुबे के साथी और अब उसका एनकाउंटर हुआपुलिस...

Bharat Mein Corona Cases: महाराष्ट्र, कर्नाटक में कोविड-19 के नए केस से बढ़ी चुनौती

corona in india latest news: भारत में कोरोना के मामलों में तेजी के बीच इस बीमारी से ठीक होने वालों की तादाद भी बढ़...