Home राज्यवार बिहार बिहार चुनाव से पहले आरजेडी को एक और झटका, पूर्व विधायक विजेंद्र...

बिहार चुनाव से पहले आरजेडी को एक और झटका, पूर्व विधायक विजेंद्र यादव ने छोड़ी पार्टी

Edited By Ruchir Shukla | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

हाइलाइट्स

  • आरजेडी के दिग्गज नेता और प्रदेश उपाध्यक्ष विजेंद्र यादव ने छोड़ी पार्टी
  • पार्टी में उपेक्षा की वजह से नाराज थे, प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को भेजा इस्तीफा
  • भोजपुर में किंगमेकर के तौर पर रही है विजेंद्र यादव की भूमिका
  • आरा के संदेश से दो बार रहे विधायक, वर्तमान में भाई अरुण यादव हैं संदेश से विधायक

आरा

बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियों में जुटी आरजेडी को एक बार फिर से तगड़ा झटका लगा है। पार्टी के दिग्गज नेता और प्रदेश उपाध्यक्ष विजेंद्र यादव ने अपने पद से और पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। पूर्व विधायक विजेंद्र यादव को आरजेडी के मुखिया लालू प्रसाद यादव का काफी करीब माना जाता है। विजेंद्र यादव की भूमिका भोजपुर में किंगमेकर के तौर पर रही है। हालांकि, काफी दिनों से वो पार्टी से नाराज चल रहे थे।

विजेंद्र यादव का आरजेडी से इस्तीफा

आरजेडी से इस्तीफे के बाद विजेंद्र यादव ने कहा कि पार्टी में उपेक्षा की वजह से उन्होंने ये कदम उठाया। पैराशूट उम्मीदवार को लेकर उन्होंने नाराजगी जताई है। अभी वो किस दल में जा रहे हैं ये स्पष्ट नहीं किया है। उन्होंने कहा कि जो भी दल सम्मान के साथ बुलाएंगे हम उनके साथ जा सकते हैं। हमने किसी भी दल के नेताओं से बात नहीं की है। फिलहाल मैं जिस दल में जाऊंगा उसी से चुनाव लड़ूंगा। उन्होंने कहा कि मेरे आरजेडी से अलग से होने कुछ ना कुछ प्रभाव जरूर पड़ेगा। अभी हम अपने लोगों के साथ बैठकर विचार करेंगे तभी आगे कोई फैसला लेंगे कि किस पार्टी में फैसला लेंगे।

इसे भी पढ़ें:- RJD को बड़ा झटका, 5 MLC ने तेजस्वी का हाथ झटककर थामा नीतीश का दामन

आरा के संदेश से दो बार रहे विधायक

विजेंद्र यादव, आरा के संदेश से दो बार विधायक रहे हैं। वर्तमान में उनके भाई अरुण यादव संदेश से आरजेडी के विधायक हैं। विजेंद्र यादव ने शनिवार को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को अपना इस्तीफा भेज दिया। इसी के साथ आरजेडी से करीब तीन दशक पुराना नाता उन्होंने तोड़ने का ऐलान किया।

जगदानंद सिंह के करीबी नेताओं में विजेंद्र यादव

भोजपुर के दिग्गज नेताओं में शुमार विजेंद्र यादव ने पार्टी पर कार्यकर्ताओं की उपेक्षा का आरोप लगाया है। उनकी गिनती प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के करीबी नेताओं में होती रही है। ऐसा माना जा रहा कि चुनाव से ठीक पहले विजेंद्र यादव के इस्तीफे से भोजपुर में राष्ट्रीय जनता दल को नुकसान उठाना पड़ सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि विजेंद्र यादव की भूमिका भोजपुर में किंग मेकर के रूप में रही है। इससे पहले आरजेडी के पांच विधान पार्षदों ने जेडीयू का दामन थाम लिया। सूत्र बता रहे कि आरजेडी के और भी कई नेता आने वाले समय में पार्टी छोड़ सकते हैं।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

सीबीएसई ने शुरू की टेली काउंसलिंग सेवा

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200 ख़बर सुनें ख़बर सुनें सीबीएसई ने शुरू की...

Bihar Assembly Election 2020: तेजस्वी से नाराज जीतनराम मांझी की सीएम नीतीश से बस एक मुलाकात जरूरी है..

Publish Date:Mon, 13 Jul 2020 08:39 AM (IST) पटना, जेएनएन। बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा, हम के अध्यक्ष...

ट्रम्प ने कहा- अमेरिका के पास दुनिया का सबसे बड़ा टेस्टिंग प्रोग्राम, जो भारत और रूस जैसे देशों से बेहतर; दुनिया में अब तक 1.32 करोड़ मरीज

दुनियाभर में अब तक 5.75 लाख लोगों की जान गई, 76.96 लाख ठीक हुएअमेरिका में सबसे ज्यादा 34.41 लाख मरीज, 1 लाख 37 हजार...

राशिफल 12 जुलाई : मिथुन राशि के जातकों को रोजगार में मिलेगी तरक्की और सिंह राशि के लिए परिस्थितियां प्रतिकूल, जानें अन्य राशियों का हाल

ग्रहों की स्थिति-शुक्र वृषभ राशि में हैं। सूर्य, बुध, राहु मिथुन राशि में हैं। सूर्य, बुध,राहु मिथुन राशि में हैं। गुरु और केतु...