Home दुनिया भारत से तनाव के बीच नेपाल खोलने जा रहा है चीन संग...

भारत से तनाव के बीच नेपाल खोलने जा रहा है चीन संग दूसरा बॉर्डर पॉइंट, आयात करेगा सामान

नेपाल एक तरफ भारत से दूरी बनाने में जुटा है तो दूसरी तरफ चीन से संपर्क बढ़ा रहा है। कोरोना वायरस की वजह से पांच महीने बंद रहने के बाद नेपाल चीन के साथ रसुआगढ़ी बॉर्डर पॉइंट खोलने जा रहा है। दोनों देशों में इसको लेकर सहमति बन गई है। नेपाल की मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, फिलहाल लोगों की आवाजाही नहीं होगी, हाइड्रोपावर और एयरपोर्ट प्रॉजेक्ट के लिए कंस्ट्रक्शन मटेरियल सहित अन्य सामानों की आवाजाही होगी।

कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए नेपाल ने चीन के साथ अपने दोनों बॉर्डर पॉइंट्स तातोपानी और रसुआगढ़ी को 29 जनवरी को बंद कर दिया था। काठमांडू पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, रसुआ के चीफ डिस्ट्रिक्ट ऑफिसर हरि प्रसाद पंत ने कहा कि दोनों देशों के बीच बुधवार को नेपाल-चाइना मैत्री पुल को खोलने पर चर्चा हुई है। 

यह भी पढ़ें: PM ओली के घर हुई नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी की हाई लेवल बैठक,खुद रहे गायब

समझौते के मुताबिक, चीन के ट्रक ड्राइवर्स सामान को नेपाल बॉर्डर पॉइंट पर उतार देंगे और उनके जाने के बाद नेपाल के ड्राइवर्स और लोडर्स सामान को संबंधित जगहों पर पहुंचाएंगे। चीन ने नेपाल से 15 ड्राइवर्स और 15 वर्कर्स की सूची मांगी है जो सामानों को बॉर्डर पॉइंट से लाएंगे। शुरुआत में चार ट्रकों को अनुमति मिलेगी और फिर इनकी संख्या बढ़ाई जाएगी। 

रसुआ के चीफ कस्टम ऑफिसर पुण्य बिक्रम खडका ने कहा कि फिलहाल लोगों की आवाजाही नहीं होगी। केवल वर्कर्स और ड्राइवर्स को ही अनुमति दी जाएगी और हर दिन उनका कोरोना टेस्ट किया जाएगा।   

रसुआगढ़ी बॉर्डर पॉइंट पुल को पिछले साल चीन की मदद से खोला गया था। पुराना पुल 2015 के भूकंप में नष्ट हो गया था। रसुआगढ़ी के अलावा चीन के साथ दूसरा बॉर्डर पॉइंट कुरुंग में है और दोनों के बीच की दूरी 24 किलोमीटर है। इस समय रसुआगढ़ी बॉर्डर पर कुछ सिक्यॉरिटी ऑफिसर्स और खाली कंटेनर्स हैं।  

खडका ने कहा कि पिछले तीन महीनों में रसुआगढ़ी कस्टम में कलेक्शन शून्य हो चुका है। इस बॉर्डर पॉइंट से चीन से रेडीमेड कपड़े, सेब, जूते, चप्पल, बैग और चश्मों का निर्यात होता है। 25 मार्च को रक्षामंत्री ईश्वर पोखारेल की अगुआई में हुई हाई लेवल मीटिंग में फैसला लिया गया था कि चीन के साथ दोनों बॉर्डर गेट खोल दिए जाएं ताकि दवा, मेडिकल उपकरण सहित जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति हो सके। तातोपानी बॉर्डर को 8 अप्रैल को खोल दिया गया था। 

(तस्वीर साभार- काठमांडू पोस्ट)



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

राम गोपाल वर्मा की फिल्म ‘मर्डर’ पर फाइल हुआ केस, फिल्ममेकर ने कहा- किसी को नीचा दिखाने का मेरा कोई इरादा नहीं था

लॉकडाउन ने भले ही फिल्म इंडस्ट्री पर ताला लगा दिया हो लेकिन राम गोपाल वर्मा को कोई नहीं रोक पाया है। उन्होंने एक...

मुंबई में उम्मीदों से भरा अनलॉक 2.0, स्टेशनरी, सलून, और ओपीडी सेवा खुलने से खुशी

मुंबई में सैलून, गैरेज आद‍ि खुलने से लोगों ने ली राहत की सांसमुंबई अनलॉक 2.0 की शुरुआत से लोगों की दिनचर्या धीरे-धीरे ही सही ट्रैक...

कोरोना अपडेट: देश में पिछले 24 घंटे में आए सबसे ज्यादा करीब 25 हजार मामले, 613 लोगों की मौत

नई दिल्ली: अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या दुनिया में सबसे ज्यादा...

हिन्दू कोई धर्म नही गाली है -भन्ते, सुप्रीम कोर्ट जजमेंट का खुलासा, सरकार पर यह बड़ा आरोप #BIN

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Join On Telegram Join On Facebook hindu dharmam channel, hindu dharma, hindu dharm ka baccha baccha prabhu tumhare naam ka, hindu dharm ki raksha me sabko...

महाराष्ट्र में लगातार चौथे दिन आए 5 हजार से ज्यादा मामले, अब तक 1.69 लाख संक्रमित

महाराष्ट्र (Coronavirus in Maharashtra) में कोरोना वायरस संक्रमण के लगातार चौथे दिन 5 हजार से ज्यादा मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटों में...

Chandra Grahan Live: जानें- चंद्र ग्रहण का क्या होगा असर, इन जगहों पर दिखाई दिया ग्रहण

Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 11:07 AM (IST) नई दिल्ली, एजेंसी। आज साल का तीसरा उपछाया चंद्र ग्रहण गुरु पूर्णिमा के दिन लगा है।...