Home राज्यवार मुंबई जेट एयरवेज के मुंबई ऑफिस को 490 करोड़ रुपए में खरीदेगी ब्रूकफील्ड

जेट एयरवेज के मुंबई ऑफिस को 490 करोड़ रुपए में खरीदेगी ब्रूकफील्ड

  • 490 करोड़ रखा गया था शुक्रवार को हुई नीलामी में रिजर्व प्राइस
  • ब्रूकफील्ड असेट मैनेजमेंट इस नीलामी में अकेली बिडर थी

दैनिक भास्कर

Jun 27, 2020, 07:12 PM IST

नई दिल्ली. ब्रूकफील्ड असेट मैनेजमेंट मुंबई के बांद्रा कुर्ला कंप्लेक्स में जेट एयरवेज से दो फ्लोर खरीदने जा रही है। इसके लिए वह 490 करोड़ रुपए का भुगतान करेगी। सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार को हुई नीलामी में दोनो फ्लोर्स के लिए इतने का ही रिजर्व प्राइस रखा गया था। निवेश फंड कंपनी इस नीलामी में अकेली बिडर थी। कनाडा की इस कंपनी के पास देश में 2.5 करोड़ वर्ग फुट का कमर्शियल स्पेस है।

ब्रूकफील्ड करीब 29,000 रुपए प्रति वर्ग फुट की दर से करेगी भुगतान

जेट एयरवेज के गोदरेज बिल्डिंग के ये दो फ्लोर्स कुल करीब 1.7 लाख वर्ग फुट के हैं। ब्रूकफील्ड इसके लिए प्रति वर्ग फुट करीब 29,000 रुपए की दर से भुगतान करेगी। रियल एस्टेट विशेषज्ञों के मुताबिक ब्रूकफील्ड ने जितने का प्राइस कोट किया है, वह बाजार की मौजूदा परिस्थितियों में बिल्कुल वाजिब है। स्थिति सामान्य होती तो इस प्रोपर्टी के लिए 10 फीसदी और मिल सकते थे। ब्रूकफील्ड ने इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं दी। इसी बांद्रा कुर्ला कंप्लेक्स में पिछले साल प्राइवेट इक्विटी कंपनी ब्लैकस्टोन ने 6.5 लाख वर्ग फुट स्पेस क लिए 40,000 रुपए प्रति वर्ग फुट की दर से भुगतान किया था।

एनसीएलटी ने इसी महीने जेट की इस प्रोपर्टी को बेचने की दी थी अनुमति

बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक जेट एयरवेज के ये दोनों फ्लोर्स एचडीएफसी के पास गिरवी रखे हुए हैं। इसी महीने की शुरुआत में नेशनल कंपनी लॉ ट्र्रिब्यूनल (एनसीएलटी) ने इन दोनों संपत्तियों को बेचे जाने की अनुमति दी थी। दोनों फ्लोर्स की बिक्री से जो राशि हासिल होगी, उसका इस्तेमाल जेट एयरवेज के कर्ज को चुकाने में किया जाएगा। 360 करोड़ रुपए एचडीएफसी को दिए जाएंगे। हालांकि एचडीएफसी का दावा 424 करोड़ रुपए का है। दोनों फ्लोर्स को बेचने से मिलने वाली राशि के कुछ अन्य हिस्से का इस्तेमाल यूएस एक्जिम बैंक के पेंडिंग एयरक्राफ्ट लोन का निपटारा करने में किया जाएगा।

कर्ज में डूबी जेट एयरवेज का परिचालन अप्रैल 2019 से बंद है

जेट एयरवेज ने अप्रैल 2019 में उड़ानों का परिचालन बंद कर दिया था। जून 2019 से कंपनी इंसॉल्वेंसी प्रक्रिया का सामना कर रही है। कंपनी के रिजॉल्यूशन प्रोफेशनल आशीष छौछड़िया ने जेट एयरवेज के 4 संभावित खरीदारों को शॉर्टलिस्ट किया है। उनकी जांच परताल की जा रही है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

विकास दुबे बिहार में घुसकर सुरक्षित निकल जाए यह नहीं हो सकता: बिहार डीजीपी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Updated Tue, 07 Jul 2020 03:42 PM IST पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249 +...

हत्या के प्रयास के मामले में वांछित अपराधी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार

नयी दिल्ली, छह जुलाई (भाषा) बाहरी दिल्ली के बरवाला रोड पर पुलिस के साथ मुठभेड़ के बाद हत्या के प्रयास के एक मामले में...

IPL से चाइनीज स्पॉन्सर्स को हटाने की बात करते-करते BCCI पर क्या बोल गए फ्रेंचाइजी के मालिक?

देशभर में चाइनीज चीजों का विरोध चल रहा है. सरकार ने ऑफिशली 59 चाइनीज ऐप्स पर बैन लगा दिया है. इसी सिलसिले में लोग लगातार...

बिहार NDA में सबकुछ ठीक नहीं, नीतीश के रवैये से एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान नाराज़ : सूत्र

नई दिल्ली: क्या बिहार विधानसभा चुनाव से पहले एनडीए गठबंधन में कोई नया मोड़ आ सकता है? क्या बिहार...

बिहार में अब तक 22.81 लाख सुयोग्य परिवारों के बनाए जा चुके हैं राशनकार्ड, मिल रहा है अनाज

पटना: बिहार में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मीडिया के साथ संवाद में सूचना जनसंपर्क विभाग के सचिव अनुपम कुमार ने कहा कि कोरोना संक्रमण के...