Home राज्यवार दिल्ली शहर की फिजा :

शहर की फिजा :

Publish Date:Sat, 27 Jun 2020 07:57 PM (IST)

ताकत तो बहुत है, काम दिलवा दो साहब.।

बच्चे के स्कूल से आता मिड-डे मील का सामान परिवार के छह सदस्यों का पेट भरता है। हर बार शिक्षक आते हैं, तो एक आस जागती है कि सरकार से कुछ और सहयोग आया होगा। शिक्षक बताते हैं, हरिराम, इस बार कुछ और मिलने जा रहा है तुम लोगों को। क्या साहब, काम? या रहने के लिए ठिकाना.? शिक्षक चुप। हरिराम हाथ जोड़कर बैठ जाता है। साहब झुग्गी की हालत बहुत खराब है। शिक्षक कहते है, इस बार से तुम्हें इम्यूनिटी पिल्स भी देगा प्रशासन..। उम्मी.नटी., ऊ का होता है साहब.? शिक्षक, अरे रोग से लड़ने की क्षमता बढ़ जाएगी तुम्हारी..। साहब, काम दिलवा दो बस, ताकत तो हममें खूब है, बचपन से लड़ ही तो रहे हैं..। कभी दुश्वारी से, तो कभी महामारी से..। बातों में अंदरूनी ताकत का आत्मविश्वास और चेहरे पर बाहरी चुनौतियों की बेबसी साफ नजर आ रही थी।

वायरस के सिफारिशी

सैर के लिए लॉकडाउन से प्रदूषणमुक्त हुए शहर की शामें भी कुछ बुरी नहीं लगतीं। कोई तेज गति से, तो कोई अपनी क्षमतानुसार धीरे-धीरे सैर करती हुई। सेक्टर 15 की चौड़ी सड़क पर भी एक-दूसरे से दूरी बनाने की जद्दोजहद। समूहों में बातें वही हैं, लेकिन दूरी की वजह से आवाजें जरा ऊंची हो गई हैं। अचानक कुछ घटता है। हाथ में फोन, कान में ईयरफोन और स्पो‌र्ट्स परिधान में कमांडो-सी दिखती युवती के पास पुलिस की जिप्सी रुकती है और उसमें कूदते पुलिसवाले लड़की को चारो ओर से घेर लेते हैं। पुलिस की तत्परता देख लगता है शातिर मुजरिम ने कोई संगीन जुर्म किया है। जो जहां था, वहीं रुक गया। लोगों में चिता से अधिक उत्सुकता थी। मैडम, मास्क कहां है? लाइए, 500 का चालान। रुकिए, मैं एक फोन कर देती हूं। पुलिसकर्मी ओमप्रकाश बोले, क्यों, वायरस भी सिफारिशी लोगों से डरता है क्या।

वक्त-वक्त की बात है.

लोगों ने घरों से बाहर जाना क्या बंद किया, इस्तरी वालों की जरूरत ही खत्म हो गई। महामारी के पहले तक अपने घरों के बाहर ससम्मान आश्रय देने वालों की निगाहें भी उन पर टेढ़ी होने लगी हैं। इतनी गर्मी में ग्राहक के इंतजार में बैठा इस्तरी वाला अगर घंटी बजाकर पानी मांग ले, तो जैसे घोर अपराध कर दिया हो। कुछ दिन पहले तक पाने के बदले शीतल शरबत देने वाले लोगों की जरूरतें खत्म, तो उनका दायित्व भी खत्म। थोड़ी देर में मुफ्त का ज्ञान बांटते कुछ लोग उसका स्टैंड गिराते कहते हैं, क्यों आते हो यहां, खुद को भी खतरे में डालते हो और हमें भी। घायल आत्मसम्मान की टीस छुपाए वह बच्चों के साथ वहीं बैठ जाता है। कहता है, वक्त-वक्त की बात है बाबू जी। कभी यही जगह आपके लिए दोस्तों से मिलने का अड्डा थी और आज आप ही इसकी ईंटें गिरा रहे हो।

खूबसूरत आबोहवा को ओजोन की नजर

शहर में गाड़ियों और फैक्ट्रियों का धुएं से उपजे प्रदूषण ने ओजोन की हस्ती कुछ कम कर दी थी, लेकिन लॉकडाउन में शुद्ध हुई आबोहवा में ओजोन ने आंखें दिखानी शुरू कर दी। यह हम नहीं कह रहे हैं, बल्कि विज्ञान एवं पर्यावरण केंद्र (सीएसई) के अध्ययन की रिपोर्ट में आया है कि पूरे एनसीआर में गुरुग्राम पर ओजोन की परत का क्षय सबसे अधिक प्रभाव डाल रहा है। खैर, अध्ययन में दावा है कि ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है, यह तो लकीर के बड़ी या छोटी होने की ज्यामिति पर आधारित गणना का परिणाम है। प्रदूषण का स्तर कम हुआ, तो ओजोन की तीव्रता का प्रभाव तो बढ़ना ही था। प्रदूषण की लकीर छोटी हुई, तो ओजोन की लकीर अपने आप लंबी हो गई। विशेषज्ञों की मानें, तो फिलहाल वक्त बचाव पर ध्यान देने का है, परेशानी पर नहीं। – प्रियंका दुबे मेहता

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

जितेंद्र की लंबी उम्र की दुआ मांग कर चली गईं सरोज खान, आखिरी बातचीत में सुनाए थे उनसे जुडे़ यादगार किस्से

दैनिक भास्करJul 03, 2020, 06:20 PM ISTबॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान इस दुनिया को अलविदा कह चली हैं। निधन से पहले उनसे आखिरी...

Delhi Police went against its own officer. MNTv

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम Delhi Police went against its own officer. MNTv ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- For More information to Also, Subscribe Our YouTube Channel: 1. MN News Bihar: ...

विकास दुबे : साल 2001, जगह- शिवली थाना, कांड- दर्जा प्राप्त राज्य मंत्री की हत्या, Video में देखें पूरी रिपोर्ट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कानपुर में यूपी पुलिस के 8 लोगों को मारने वाला विकास दुबे अभी तक फरार है. पुलिस का दावा है...

औरैया में मिली लावारिस कार दुर्दांत विकास दुबे की होने का शक, लखनऊ के अमित दुबे के नाम से पंजीकृत UP News

Publish Date:Sun, 05 Jul 2020 12:05 PM (IST) औरैया, जेएनएन।Notorious Criminal Vikas Dubey: कानपुर के चौबेपुर के बिकारू गांव में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के...

लव राशिफल 7 जुलाई: आपके प्रेम और दांपत्य जीवन से जुड़ी भविष्यवाणी

{"_id":"5f0326909b722471644a62f6","slug":"love-horoscope-for-7-july-2020-daily-love-horoscope-aaj-ka-love-rashifal","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"u0932u0935 u0930u093eu0936u093fu092bu0932 7 u091cu0941u0932u093eu0908: u0906u092au0915u0947 u092au094du0930u0947u092e u0914u0930 u0926u093eu0902u092au0924u094du092f u091cu0940u0935u0928 u0938u0947 u091cu0941u0921u093cu0940 u092du0935u093fu0937u094du092fu0935u093eu0923u0940","category":{"title":"Predictions","title_hn":"u092cu094bu0932u0947 u0924u093eu0930u0947","slug":"predictions"}} दैनिक लव राशिफल - फोटो : Rohit Jha {"_id":"5f0326909b722471644a62f6","slug":"love-horoscope-for-7-july-2020-daily-love-horoscope-aaj-ka-love-rashifal","type":"photo-gallery","status":"publish","title_hn":"u0932u0935 u0930u093eu0936u093fu092bu0932 7 u091cu0941u0932u093eu0908: u0906u092au0915u0947...

बिहार में 30 सेकंड में बने कांग्रेस के मेंबर, पार्टी ने शुरू की ऑनलाइन सदस्यता अभियान

Edited By Abhishek Kumar | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 03 Jul 2020, 08:00:00 PM IST शक्ति सिंह गोहिलपटना/नई दिल्ली आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के...