Home बड़ी खबरें भारत राहुल गांधी को शरद पवार ने दिखाया आईना, 'भूल नहीं सकते 1962...

राहुल गांधी को शरद पवार ने दिखाया आईना, ‘भूल नहीं सकते 1962 में क्या हुआ, इतिहास याद रखना चाहिए’

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ तनाव को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी केंद्र सरकार पर लगातार हमलावर हैं। चीन को लेकर लगातार दिए जा रहे राहुल के बयानों पर शरद पवार ने कहा, ‘हम नहीं भूल सकते कि 1962 में क्या हुआ था। चीन ने हमारी 45 हजार स्क्वेयर किमी जमीन पर कब्जा कर लिया था। राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए।’

Edited By Shivam Bhatt | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

हाइलाइट्स

  • शरद पवार का राहुल गांधी पर हमला, 1962 में क्या हुआ नहीं भूलना चाहिए
  • पवार बोले, 1962 में चीन ने 45 हजार वर्ग किमी जमीन पर कब्जा किया था
  • चीन के साथ तनाव को लेकर केंद्र सरकार पर लगातार हमलावर हैं राहुल गांधी
  • पवार ने कहा, राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर हमें राजनीति नहीं करनी चाहिए

मुंबई

पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ तनाव को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी केंद्र सरकार पर हमलावर हैं। लद्दाख में चीनी सैनिकों की घुसपैठ को लेकर राहुल ने शुक्रवार को भी कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बारे में सच बोलें और अपनी जमीन वापस लेने के लिए कार्रवाई करें तो पूरा देश उनके साथ खड़ा होगा। हालांकि अब इस पर उन्हीं के सहयोगी दल एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने उनको आईना दिखाया है।

चीन को लेकर लगातार दिए जा रहे राहुल के बयानों पर शरद पवार ने कहा, ‘हम नहीं भूल सकते कि 1962 में क्या हुआ था। चीन ने हमारी 45 हजार स्क्वेयर किमी जमीन पर कब्जा कर लिया था। वर्तमान में मुझे नहीं पता कि चीन ने जमीन ली है या नहीं, मगर इस पर बात करते वक्त हमें इतिहास याद रखना चाहिए। राष्ट्रीय सुरक्षा को लेकर राजनीति नहीं करनी चाहिए।’



पवार ने कहा, युद्ध की कोई आशंका नहीं दिखती


पीवी नरसिम्हा राव सरकार के दौरान रक्षा मंत्री रहे शरद पवार ने कहा, ‘मुझे अभी युद्ध की कोई आशंका नहीं दिखती है। हालांकि चीन ने जाहिर तौर पर हिमाकत तो की है। गलवान में भारतीय सेना ने जो भी निर्माण कार्य किया है वह अपनी सीमा में किया है।’

लद्दाख के आसमान में गरज रहे फाइटर एयरक्राफ्ट्स

  • लद्दाख के आसमान में गरज रहे फाइटर एयरक्राफ्ट्स

    15 जून को गलवान घाटी में हुए खूनी संघर्ष के बाद भारत लद्दाख में अपनी सैन्य ताकत लगातार बढ़ा रहा है। गुरुवार को भी लद्दाख के आसमान में भारतीय वायु सेना के फाइटर जेट उड़ान भरते दिखे। लेह स्थित मिलिट्री बेस से बीते तीन दिनों में कई भारतीय जेट ने उड़ान भरी और 240 किलोमीटर दूर स्थित सीमा रेखा तक दौरा किया है।

  • लद्दाख पहुंचे स्पेशल ट्रूप्स, फॉर्वर्ड पोस्टों पर तैनाती

    एलएसी के विवादित इलाकों में हड्डियां गलाने वाली ठंड है। ऐसे में वहां चीनी सेना को जवाब देने के लिए ऐसी टीमों की तैनाती की गई है जिन्हें उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में लड़ने की ट्रेनिंग मिली हुई है। सेना और आईटीबीपी की इन घातक टीमों को फॉरवर्ड लोकेशंस पर भेजा जा चुका है।

  • ​रिटायर्ड कैप्टन बोले, लेह में ऐसी सैन्य मौजूदगी पहले नहीं देखी

    लेह में रहने वाले भारतीय सेना के रिटायर्ड कैप्टन ताशी छेपाल ने कहा कि मैंने अपने जीवनकाल में लेह में ऐसी सैन्य मौजूदगी पहले कभी नहीं देखी है। भारतीय सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने एएफपी से बताया कि इलाके में अब हमारी सैन्य मौजूदगी पर्याप्त मात्रा में है।

  • अत्याधुनिक अपाचे और चिनूक हेलिकॉप्टर भी पहुंचे लद्दाख

    हाल ही में वायुसेना में शामिल हुए अत्याधुनिक चिनूक और अपाचे हेलिकॉप्टर भी लद्दाख के आसमान में दिखाई दिए। बुधवार को लद्दाख एयरबेस से चिनूक हेलिकॉप्टर ने उड़ान भरी थी।

  • बर्फीले रेगिस्तान में कदमताल करते सेना के जवान

    गुरुवार को बर्फीले रेगिस्तान कहे जाने वाले लद्दाख में कदमताल करते सेना के जवान। चीन से तनाव के बीच लेह जाने वाले कई रास्तों पर मिलिट्री चेकपोस्ट बनाए गए हैं। शहर में आर्मी की गतिविधियां भी बढ़ गई हैं। लेह के निवासियों ने शहर की सड़कों पर भारी मात्रा में आर्मी के ट्रकों और आर्टिलरी की मौजूदगी की पुष्टि की है।

  • तनाव के बीच भारत-चीन के बीच कूटनीतिक बातचीत
  • ​लद्दाख में चीन पहले भी करता रहा है ऐसी हरकतें

    1999 में जब भारत का ध्‍यान करगिल में पाकिस्‍तान की घुसपैठ पर था, तब चीन ने अपने बेस से लेकर फिंगर 4 तक एक कच्‍ची सड़क बना ली थी। बाद में इसे पक्‍का कर दिया गया। एक मिलिट्री ऑफिसर के अनुसार, ‘PLA के सैनिक अक्‍सर फिंगर 8 और सिरजप की पोस्‍ट से अपनी पोस्‍ट से गाड़‍ियों में बैठकर इस इलाके में पैट्रोल करते थे। लेकिन फिंगर 2 तक दावा करने के बाजवूद उन्‍होंने इसपर कभी कब्‍जा नहीं किया था लेकिन अब उन्‍होंने फिंगर 4-8 के बीच डिफेंस स्‍ट्रक्‍चर तैयार कर लिए हैं। वे ऊंचाइयों पर मौजूद हैं।’

  • ​आर्मी, एयरफोर्स चीफ कर चुके हैं लद्दाख का दौरा

    गलवान में हिंसक झड़प और 20 भारतीय सैनिकों की शहादत के बाद आर्मी चीफ जनरल नरवणे पहली बार लद्दाख पहुंचे। पिछले हफ्ते ही वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल आर के एस भदौरिया ने भी लद्दाख और श्रीनगर वायु सैनिक अड्डों का दौरा किया था और क्षेत्र में किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए भारतीय वायु सेना की तैयारियों का जायजा लिया था।



राहुल का दावा, चीन ने तीन जगह हमारी जमीन छीनी


इससे पहले मोदी सरकार पर हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा, ‘एक जरूरी सवाल उठता है। कुछ दिन पहले हमारे प्रधानमंत्री ने कहा कि हिंदुस्तान की एक इंच जमीन किसी ने नहीं ली, कोई हिंदुस्तान के भीतर नहीं आया। उपग्रह से ली गई तस्वीरों से पता चल रहा है, लद्दाख के लोग कह रहे हैं और सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी कह रहे हैं कि चीन ने तीन जगह हमारी जमीन छीनी है।’

‘घबराने की जरूरत नहीं है, सच बताएं प्रधानमंत्री’

राहुल ने कहा, ‘प्रधानमंत्री जी, आपको सच बोलना ही पड़ेगा, देश को बताना पड़ेगा। घबराने की कोई जरूरत नहीं है। अगर आप कहेंगे कि जमीन नहीं गई है, लेकिन जमीन गई होगी तो चीन को इससे फायदा होगा। हमें मिलकर इनसे लड़ना है। इन्हें उठाकर वापस फेंकना है, निकालना है। आप बोलिए कि चीन ने हमारी जमीन ली है और हम कार्रवाई करने जा रहे हैं। पूरा देश आपके साथ खड़ा है।’ उन्होंने फिर से यह सवाल दोहराया कि हमारे जवानों को हिंसक झड़प वाली रात बिना हथियार के किसने भेजा और क्यों भेजा?

चीन ने छीनी जमीन तो बिना डरें बताएं मोदी: राहुलचीन ने छीनी जमीन तो बिना डरें बताएं मोदी: राहुललद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी से सवाल किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो के जरिए प्रधानमंत्री को एक ओर तो आश्वासन दिया कि संकट की इस घड़ी में सारा देश उनके साथ है, दूसरी ओर उनसे मामले पर सच बोलने की गुजारिश भी की।



(एजेंसी इनपुट्स के साथ)


Web Title sharad pawar attacks rahul gandhi for his remarks against modi sarkar on india china tension(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहार कैबिनेट में 24 प्रस्‍ताव स्‍वीकृत, नई औद्योगिक प्रोत्साहन नीति 2016 में किया गया संशोधन

Publish Date:Fri, 26 Jun 2020 09:14 PM (IST) पटना, जेएनएन। बिहार कैबिनेट की बैठक शुक्रवार को हुई। इसमें 24 प्रस्तावों को कैबिनेट की मंजूरी मिली।...

यूपी में कोरोना LIVE: फर्रुखाबाद में दो चालकों समेत चार मरीज मिले, कुल 21,558 संक्रमित

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free मेंकहीं भी, कभी भी। 70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद ख़बर सुनें ख़बर सुनें फर्रुखाबाद में दो चालकों समेत चार...

बॉलिवुड की वो फिल्‍में जिनके लिए सुशांत सिंह राजपूत थे पहली पसंद

Web Title:movie from aashiqui 2 to bajirao mastani bollywood movies for which sushant singh rajput was the first choice(Hindi News from Navbharat Times ,...

गोरखपुर में मिले 18 नए कोरोना पॉजिटिव, कुल संक्रमितों की संख्या हुई 296

कोरोना वायरस। - फोटो : अमर उजाला। पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर Free मेंकहीं भी, कभी भी। 70 वर्षों से करोड़ों पाठकों की पसंद ख़बर सुनें ख़बर सुनें...

दबंगई: खेत की बुवाई का विरोध करने पर दलित का घर फूंका

Dabangai: Dalit's house burnt for opposing sowing of field -फायरिंग में महिला को लगे छर्रे, पथराव में तीन और घायल हिण्डौनसिटी. क्षेत्र के दलित विधायक पर...