Home दुनिया सूडान की नई तस्वीर: महिलाओं के खतने पर प्रतिबंध का कानून आया,...

सूडान की नई तस्वीर: महिलाओं के खतने पर प्रतिबंध का कानून आया, गैर-मुस्लिमों को शराब पीने की इजाजत

Sudan Reform Laws: सूडान की अंतरिम सरकार (Sudan Transition Government) ने नए कानून बना लिए हैं जिनके तहत महिलाओं के खतने पर बैन लग गया है (Female Genitalia Mutilation Ban), गैर-मुस्लिमों को शराब पीने की इजाजत (Non muslims in Sudan) और इस्लाम त्यागने की इजाजत भी मिल गई है।

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

सूडान में करीब 30 साल तक कट्टर इस्लामिक शासन रहा। पिछले साल बड़े आंदोलन के बाद उमर अल-बशीर के शासन को उखाड़ फेंका गया। अब वहां की अंतरिम सरकार देश को प्रगतिशील बनाने की राह पर चल पड़ी है। अप्रैल के महीने में महिलाओं के खतने को अपराध करार देने के बाद इसे लेकर कानून बना लिया गया है। इसके साथ ही सरकार दूसरे नए कानून भी लाई है, जिनमें गैर-मुस्लिमों को शराब पीने का अधिकार, इस्लाम त्यागने का अधिकार, महिलाओं को बिना पुरुष रिश्तेदारों के सफर करने का अधिकार दिए गए हैं। इनके बारे में जानकारी देते हुए देश के न्याय मंत्री नसरुद्दीन अब्दुलबरी ने कहा कि ऐसे सभी कानूनों को खत्म किया जा रहा है जिनसे मानवाधिकार उल्लंघन होता है।

खतने पर प्रतिबंध का कानून

NBT

पिछले साल तख्तापलट के बाद देश में बनी अंतरिम सरकार ने खतना को अपराध करार देने वाला कानून तैयार कर लिया है। किसी भी मेडिकल संस्थान या घरों में भी खतना किए जाने पर तीन साल की सजा और जुर्माना हो सकता है। इसे करने वाले डॉक्टर-नर्स को भी ऐक्शन का सामना करना पड़ेगा। संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट के मुताबिक सूडान में 10 में से 9 महिलाओं का खतना किया जाता था। खतना एक ऐसी परंपरा होती है जिसमें महिलाओं के प्राइवेट पार्ट या उसके एक हिस्से को काट दिया जाता है। न सिर्फ यह प्रक्रिया दर्दनाक होती है बल्कि बेहद खतरनाक भी। कई मामलों में बच्चियों की जान तक चली जाती है।

​गैर-मुस्लिम पी सकेंगे शराब

NBT

देश में अब गैर-मुस्लिमों को प्राइवेट में शराब पीने की इजाजत होगी। हालांकि, मुस्लिमों पर इसका प्रतिबंध लगा रहेगा। अगर कोई गैर-मुस्लिम किसी मुस्लिम के साथ शराब पीता पाया गया, तो उसे भी सजा होगी। अब्दुलबरी का कहना है कि सरकार देश में रहने वाले 3% गैर-मुस्लिमों के अधिकारों की रक्षा करना चाहती है। उन्हें शराब पीने, आयात करने और बेचने की इजाजत भी होगी। देश में शराब पीना तब से बैन है जब 1983 में तत्कालीन राष्ट्रपति जफर निमेरी इस्लामिक कानून लेकर आए थे। उन्होंने तब नील नदी में विस्की की बोतलें फेंककर इस पर पाबंदी लगाई थी। बशीर ने सत्ता में आने के बाद इस्लामिक कानूनों को जारी रखा था।

​इस्लाम त्यागने का अधिकार

NBT

सूडान में इस्लामिक कानून के तहत इस्लाम को त्यागने पर मौत की सजा भी हो सकती थी। अब्दुलबरी ने कहा कि पहले का कानून की सुरक्षा के लिए खतरा था। इसके अलावा देश में पहले कई अपराधों के लिए सार्वजनिक रूप से सजा दी जाती थी, जिसे अब खत्म कर दिया गया है। अब किसी महिला को बिना पुरुष रिश्तेदार के सफर करने की इजाजत भी दे दी गई है। इससे पहले नवंबर में ऐसा प्रतिबंध को हटा लिया गया था जिसमें महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर कैसे पहनना-ओढ़ना है और व्यवहार करना है, यह तय किया गया था।

Web Title new reform laws in sudan banning femal genitalia mutilation and allowing alcohol to non muslims(Hindi News from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

अमेजन इंडिया पर आएगा Samsung का Galaxy M31 Prime Edition, जानें क्या होगी कीमत

टेक डेस्क। Samsung अब भारत में अमेजन इंडिया के जरिए अपने नए स्मार्टफोन गैलेक्सी एम31 प्राइम एडिशन (Galaxy m31 Prime Edition) को लाने की...

Gold Price Today: फिर से गिरी सोने की कीमत, अब तक करीब 5500 रुपये हो चुका है सस्ता!

इस कारोबारी हफ्ते के दूसरे दिन सोना (Gold Price Today) गिरावट के साथ खुला है। कल सोना खुला तो मामूली बढ़त के साथ था,...

लुटने दो बेटियों की इज्जत, राहुल बाबा और प्रियंका मैडम को तो सियासी मुद्दा चाहिए

दरिंदों को अपनी हवस की प्यास बुझाते वक्त शायद ये याद नहीं रहता कि जिस बेटी की आबरू को वो सरेआम जंगली भेड़िए की...

आनंद विहार में एक घर में दो की हत्या, पुलिस ने शक में बेटे को उठाया

करनाल2 घंटे पहलेकॉपी लिंककरनाल. आंनद विहार में हत्या के मामले में मृतक के बेटे संजय से पुलिस पूछताछ करते हुए।साथ लगते कमरे में सो...

मेरी लाइफ तनिष्क के एड की तरह, अली के परिवार से मिला बहुत प्यार: ऋचा चड्ढा

कुछ दिन पहले तनिष्क के एक एड ने पूरे देश में बवाल खड़ा कर दिया था. हिंदू-मुस्लिम की एकता दिखा रहा वो एड सोशल...