Home राज्यवार बिहार 30 सेकेंड में नदी में समा गया स्कूल, खिड़की और दरवाजे के...

30 सेकेंड में नदी में समा गया स्कूल, खिड़की और दरवाजे के लिए लोगों ने जोखिम में डाली जान

  • दीवार गिरने के बाद चंद सेकेंड के लिए छत बचा रहा
  • चंद सेकेंड बाद छत और स्कूल का बचा हिस्सा पानी में गिर गया

दैनिक भास्कर

Jul 13, 2020, 07:48 PM IST

भागलपुर. नेपाल में हो रही भारी बारिश के चलते बिहार का शोक कही जाने वाली कोसी नदी उफनाई हुई है। नदी के दियारा इलाके में बाढ़ आ गई है। इसके साथ ही कोसी अपने तट पर तेजी से कटाव कर रही है। भागलपुर जिले के बिहपुर प्रखंड के गोविंदपुर गांव में कटाव हो रहा है। सोमवार को गोविंदपुर का एकमात्र मिडिल स्कूल 30 सेकेंड में नदी में समा गया। इस स्कूल का आधा हिस्सा रविवार को बह गया था। 

गांव के लोगों ने स्कूल के नदी में बहने का वीडियो बनाया है। कुछ युवक कटाव देखने के लिए नदी किनारे जमा थे। स्कूल की नीव के नीचे की मिट्टी पहले ही बह गई थी। पहले नदी की तरफ का दीवार गिरा। दीवार गिरने के बाद चंद सेकेंड के लिए छत बचा रहा। इसी दौरान एक कौआ आकर छत पर बैठ गया। वह कुछ सेकेंड के लिए बैठा फिर उड़ गया। इसके चंद सेकेंड बाद छत और स्कूल का बचा हिस्सा भरभराकर पानी में गिर गया। 

पहले नदी की तरफ का दीवार गिरा।

खिड़की और दरवाजा के लिए लोगों ने जोखिम में डाली जान
कटाव के चलते नदी के किनारे की जमीन पानी में गिरकर बह रही है। इसके बाद भी गांव के लोग किनारे पर खड़े होकर स्कूल को गिरता देख रहे थे। यही नहीं, स्कूल गिरा तब उसकी खिड़की और दरवाजे पानी में बहने लगे। युवकों के बीच खिड़की और दरवाजे को पाने की होड़ मच गई। कई लड़के तो पानी में घुस गए और किसी तरह फर्नीचर को निकालने की कोशिश करने लगे। हालांकि, उफनाती कोसी नदी में लकड़ी के लिए जाना जान दांव पर लगाने के कम नहीं था। 

जान जोखिम में डालकर नदी से दरवाजा निकालने की कोशिश करता युवक।

गांव के लोगों ने बांध पर ली है शरण
कटाव के चलते गोविंदपुर गांव के सात घर कोसी में बह गए हैं। जिन लोगों के घर नदी किनारे हैं उन लोगों ने अपने घर को खाली कर दिया है। लोगों ने बांध पर शरण ली है। गांव के जयजय राम ऋषिदेव, श्रवण ऋषिदेव, सोमन ऋषिदेव, खेखर ऋषिदेव और लालो ऋषिदेव का घर कटाव की भेंट चढ़ चुका है। जिनके घर कट चुके हैं, उनका परिवार समीप के बांध पर पॉलिथीन टांग कर जिंदगी गुजार रहा है। वहीं, बचे घरों के लोग अपना सामान समेटकर ऊंचे स्थानों पर पलायन कर रहे हैं।

कंटेंट: गिरधर सिंह

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

बिहारः SSR केस न बन सका मुद्दा, BJP ही भूल गई अपना दिया नारा

Bihar Elections 2020 नजदीक आने के साथ नेताओं के तूफानी दौरे ने सियासी पारा बढ़ा दिया है। पर चुनाव के पहले उठा सुशांत सिंह...

बलात्कारी की कांपेगी रूह: मासूम को नोचने वाला हैवान रोएगा, मिली इसे ऐसी सजा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के जनपद मुज़फ्फरनगर की पोस्को कोर्ट ने गुरुवार को एक मासूम...

प्रतिमा विसर्जन का नहीं दिखा रौनक, बड़ी देवी और छोटी देवी का खोंइचा मिलन भी नहीं हुआ

Hindi NewsLocalBiharDurga Puja In Bihar Patna Update, Coronavirus News; Prasad Not Distributed In Chhoti Patan Devi Templeपटना5 मिनट पहलेकॉपी लिंकपटना सिटी के महाराजगंज स्थित...

बिहार चुनावः राजद उम्मीदवार नहीं चाहते कि कन्हैया कुमार करें उनके लिए प्रचार, जानें क्या है वजह

बिहार चुनाव में अब ज्यादा वक़्त नहीं बचा है। सभी राजनीतिक दल अपने-अपने गठबंधन के प्रचार में लगे हुए हैं। इस बार वाम दल...

MNS की धमकी के बाद कलर्स ने मांगी माफी, बिग बॉस कंटेस्टेंट के बयान पर मचा था हंगामा

कलर्स टीवी ने हाल ही में बिग बॉस के एक एपिसोड मराठी भाषा को लेकर की गई टिप्पणी के लिए माफी मांगी है. कलर्स...