Home मनोरंजन अनुभव सिन्हा ने सोशल मीडिया पर फिल्म को याद किया, बोले- बहुत...

अनुभव सिन्हा ने सोशल मीडिया पर फिल्म को याद किया, बोले- बहुत कम फिल्में ऐसी होती हैं, जिन्हें लंबे समय तक प्यार मिलता है

दैनिक भास्कर

Jul 13, 2020, 07:05 PM IST

फिल्म निर्देशक अनुभव सिन्हा की डायरेक्टोरियल डेब्यू फिल्म ‘तुम बिन’ को रिलीज हुए सोमवार को 19 साल पूरे हो गए। ये फिल्म 13 जुलाई साल 2001 में रिलीज हुई थी और बड़ी हिट साबित हुई थी। इस मौके पर सिन्हा ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर करते हुए इससे जुड़ी यादें शेयर कीं। उन्होंने बताया कि 19 साल पहले इसी दिन उनकी दुनिया बदल गई थी।

सिन्हा ने फिल्म का एक पोस्टर शेयर करते हुए लिखा, ‘कुछ फिल्में चलती हैं और कुछ नहीं। बहुत कम ऐसी होती हैं, जो बहुत लंबे समय तक याद रखी जाती हैं। मैं बहुत भाग्यशाली हूं जो मेरी पहली फिल्म को 19 साल से प्यार मिल रहा है और ये अब भी जारी है। 2001 में इस तारीख को मेरे लिए सबकुछ बदल गया था। हमेशा के लिए। धन्यवाद टीम। #तुम बिन’। 

फिल्म में तीन हीरो और एक हीरोइन थी

फिल्म में सांदली सिन्हा ने बतौर एक्ट्रेस सबका दिल जीता था, वहीं प्रियांशु चटर्जी, राकेश बापट और हिमांशु मलिक हीरो के रूप में नजर आए थे। फिल्म के गाने जबरदस्त हिट रहे थे। इसके प्रमुख गीतों को निखिल-विनय ने संगीत दिया था। साल 2016 में ‘तुम बिन-2’ नाम से इस फिल्म का सीक्वल भी बना था। जिसमें नेहा शर्मा, आशिम गुलाटी और आदित्य सील ने प्रमुख भूमिकाएं निभाई थीं।

तापसी पन्नू और कृति खरबंदा ने किया कमेंट

अनुभव सिन्हा की पोस्ट कमेंट करते हुए तापसी ने फिल्म का एक फेमस डायलॉग याद दिलाया। उन्होंने लिखा ‘पता है तुम्हें सहारे की जरूरत नहीं है, मैं बस साथ देने आया हूं। हाय’ वहीं कृति खरबंदा ने कमेंट करते हुए लिखा, ‘तुम बिन जिया जाए कैसे, कैसे जिया जाए तुम बिन।’

अनुभव सिन्हा की पोस्ट पर तापसी पन्नू और कृति खरबंदा ने कमेंट किया।

राकेश ने भी फिल्म को याद किया

फिल्म के तीन हीरो में से एक राकेश बापट ने भी सोशल मीडिया इस फिल्म को याद करते हुए पोस्ट शेयर की। उन्होंने लिखा, ‘वो 13 तारीख शुक्रवार का दिन था, जिसने मेरे जीवन को हमेशा के लिए बदल दिया। #तुम बिन के 19 साल। लगभग दो दशकों से इस अथक प्रेम के लिए सभी को धन्यवाद।’

मुल्क, आर्टिकल 15 और थप्पड़ का निर्देशन भी किया

‘तुम बिन’ के बाद सिन्हा ने ‘आपको पहले भी कहीं देखा है’, ‘दस’, ‘तथास्तु’, ‘कैश’, ‘रा-वन’, ‘तुम बिन-2’, ‘मुल्क’, ‘आर्टिकल 15’ और ‘थप्पड़’ जैसी फिल्मों का निर्देशन भी किया। इनमें से सामाजिक मुद्दों पर बनी उनकी आखिरी तीनों फिल्मों के लिए उन्हें भरपूर सराहना मिली। 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

‘मुंगेर की घटना पर आपके आंसू आ गए, ये फरीदाबाद घटना पर कहां थे’

बिहार चुनाव के बीच मुंगेर में दुर्गा विसर्जन में हुई पुलिस कार्रवाई को लेकर सियासी बवाल थम नहीं रहा है। इस घटना को लेकर...

तीन केंद्रीय मंत्री जनप्रतिनिधि नहीं, एक सोच के गुलाम: सुष्मिता देव

पंजाब की घटना पर तीन केंद्रीय मंत्रियों के बार- बारी कांग्रेस सरकार, राहुल और प्रियंका गांधी पर हमले का जवाब महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता...

डायबिटीज के मरीजों के लिए रामबाण दवा हैं सूरजमुखी के बीज, ऐसे करें सेवन

नई दिल्ली : सूरजमुखी एक वानस्पतिक पौधा है। इसकी खेती भारत समेत अमेरिका,...

मुंबई में 1257 नए मरीज, एक दिन में 50 की मौत

मुंबई में कोरोना (Coronavirus) के मरीजों की संख्या  दिन-प्रतिदिन बढ़ रही है, शनिवार को राज्य में कोरोना के कारण 137 लोगों की मौत हो...