Home राज्यवार दिल्ली इस्राइल की मदद से एम्स शुरू करेगा पोस्ट-कोविड रिकवरी क्लिनिक

इस्राइल की मदद से एम्स शुरू करेगा पोस्ट-कोविड रिकवरी क्लिनिक

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली
Updated Wed, 12 Aug 2020 05:28 AM IST

इस्राइल का प्रतिनिधिमंडल एम्स में…
– फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

कोरोना संक्रमण से लोग तेजी से ठीक हो रह हैं, हालांकि इनमें से कुछ लोगों में ठीक होने के बाद भी फेफड़ों से संबंधित समस्याएं मिल रही हैं। इन मरीजों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। एम्स अस्पताल अब इन रोगियों पर ध्यान केंद्रित करेगा और इनके इलाज के लिए पोस्ट-कोविड रिकवरी क्लिनिक शुरू किया जाएगा ताकि उनके फेफड़ों की क्षमता में सुधार पर ध्यान दिया जा सके। 

एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि जिन मरीजों में रिकवरी के बाद फेफड़ों की समस्या मिल रही है, उन पर भी ध्यान दिया जाएगा। व्यायाम, दवाओं और अन्य उपकरणों की सहायता से इन रोगियों का इलाज शुरू किया जाएगा। इसके लिए अस्पताल में एक पोस्ट कोविड रिकवरी क्लिनिक चालू होगा। उन्होंने बताया कि क्लिनिक के लिए इस्राइल भारत की मदद करेगा। इस्राइल की ओर से उपलब्ध कराए गए रोबोट उपकरण रोगियों की निगरानी करने में मदद करेंगे। 

उन्होंने कहा कि ये उपकरण दूरदराज के क्षेत्रों में भी फेफड़े, हृदय और सांस लेने की समस्याओं वाले लोगों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है और उनके जीवन को बचाया जा सकता है। इनका कस्बों और अन्य क्षेत्रों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में शहरों के बड़े अस्पतालों में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

गुलेरिया ने कहा कि कोरोना की स्थिति भारत के कुछ राज्यों में अभी जैसी है आने वाले समय में उससे कुछ खराब भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि  देश में अगले कुछ सप्ताह में पीक की स्थिति हो सकती है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि लोगों को सभी सुरक्षा निर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए। किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। 

इस्राइल ने उपलब्ध कराए आधुनिक चिकित्सीय उपकरण
भारत में इस्राइल के राजदूत डॉ. रॉन मलका मंगलवार को एम्स पहुंचे। उन्होंने अस्पताल के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया को  कोरोना के इलाज में मदद करने के लिए आधुनिक चिकित्सीय उपकरण उपलब्ध कराए। इनमें हृदय, फेफड़ों और सांस संबंधी उपकरण थे। नॉन इन्वेंसिव कोविड जांच प्रणाली विकसित करने के साथ-साथ इस्राइल इस क्लिनिक को तैयार करने में भी भारत का सहयोग करेगा। 

कोरोना संक्रमण से लोग तेजी से ठीक हो रह हैं, हालांकि इनमें से कुछ लोगों में ठीक होने के बाद भी फेफड़ों से संबंधित समस्याएं मिल रही हैं। इन मरीजों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है। एम्स अस्पताल अब इन रोगियों पर ध्यान केंद्रित करेगा और इनके इलाज के लिए पोस्ट-कोविड रिकवरी क्लिनिक शुरू किया जाएगा ताकि उनके फेफड़ों की क्षमता में सुधार पर ध्यान दिया जा सके। 

एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि जिन मरीजों में रिकवरी के बाद फेफड़ों की समस्या मिल रही है, उन पर भी ध्यान दिया जाएगा। व्यायाम, दवाओं और अन्य उपकरणों की सहायता से इन रोगियों का इलाज शुरू किया जाएगा। इसके लिए अस्पताल में एक पोस्ट कोविड रिकवरी क्लिनिक चालू होगा। उन्होंने बताया कि क्लिनिक के लिए इस्राइल भारत की मदद करेगा। इस्राइल की ओर से उपलब्ध कराए गए रोबोट उपकरण रोगियों की निगरानी करने में मदद करेंगे। 

उन्होंने कहा कि ये उपकरण दूरदराज के क्षेत्रों में भी फेफड़े, हृदय और सांस लेने की समस्याओं वाले लोगों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है और उनके जीवन को बचाया जा सकता है। इनका कस्बों और अन्य क्षेत्रों के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में शहरों के बड़े अस्पतालों में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

गुलेरिया ने कहा कि कोरोना की स्थिति भारत के कुछ राज्यों में अभी जैसी है आने वाले समय में उससे कुछ खराब भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि  देश में अगले कुछ सप्ताह में पीक की स्थिति हो सकती है। डॉ. गुलेरिया ने कहा कि लोगों को सभी सुरक्षा निर्देशों का सख्ती से पालन करना चाहिए। किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। 

इस्राइल ने उपलब्ध कराए आधुनिक चिकित्सीय उपकरण
भारत में इस्राइल के राजदूत डॉ. रॉन मलका मंगलवार को एम्स पहुंचे। उन्होंने अस्पताल के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया को  कोरोना के इलाज में मदद करने के लिए आधुनिक चिकित्सीय उपकरण उपलब्ध कराए। इनमें हृदय, फेफड़ों और सांस संबंधी उपकरण थे। नॉन इन्वेंसिव कोविड जांच प्रणाली विकसित करने के साथ-साथ इस्राइल इस क्लिनिक को तैयार करने में भी भारत का सहयोग करेगा। 

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

पीएम मोदी की ‘आत्मनिर्भर भारत’ अपील को IMF ने सराहा, कहा- ‘आर्थिक पैकेज से अर्थव्यवस्था को मिला सहारा’

वाशिंगटनः कोरोना संक्रमण के कारण जहां लोगों के स्वास्थ्य पर बूरा असर पड़ा है. वहीं कारोबार ठप होने के...

bihar legislative assembly election 2020 bihar vidhan sabha chunav complete schedule – इस बार वर्चुअल चुनाव प्रचार होगा। बड़ी- बड़ी जनसभाएं नहीं की जा सकेंगीः चुनाव आयोग | Navbharat Times

Fri, 25 Sep 2020 12:55:26 (IST)इस बार वर्चुअल चुनाव प्रचार होगा। बड़ी- बड़ी जनसभाएं नहीं की जा सकेंगीः चुनाव आयोगFri, 25 Sep 2020...

एसपी कार्यालय की सीढ़ियों पर बच्चे को जन्म देने वाली नाबालिग के साथ हुआ था सामूहिक दुष्कर्म, केस दर्ज

किशनगंज2 घंटे पहलेकॉपी लिंकवीडियो रिकॉर्डिंग कर वायरल करने की दी थी धमकी, इसीलिए अब तक चुप रही पीड़िताएसपी कार्यालय की सीढ़ी पर नवजात को...

गिरिडीह सदर अंचल के राजस्व कर्मी को एसीबी ने 3500 रूपये की रिश्वत लेते किया गिरफ्तार – NEWSWING

Giridih : सदर अंचल के राजस्व कर्मचारी संजय साव को धनबाद एसीबी की टीम ने रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार कर...

कृषि बिल: सरकार बोली- किसानों की आजादी, विपक्ष ने उठाए सवाल…वेस्ट यूपी का हाल

राशिद जहीर, मेरठकृषि बिल संसद में पास होने के बाद अब सड़क पर घमासान मचा हुआ है। किसान बिल पास होने के विरोध में...