Home स्वास्थ्य शरीर में हार्मोनल संतुलन बिगड़ने पर ये 5 हेल्दी फूड बन जाते...

शरीर में हार्मोनल संतुलन बिगड़ने पर ये 5 हेल्दी फूड बन जाते हैं अनहेल्दी, थायराइड जैसी बीमारी का बढ़ता है खतरा

क्या आप जानते हैं कि हार्मोन हमारे शरीर में एक प्रकार के रासायनिक संदेशवाहक का काम करते हैं, जो शरीर के विभिन्न अंगों और ऊतकों तक जाकर उन्हें कुशलतापूर्वक कार्य करने के लिए निर्देशित करते हैं। इंडोक्राइन ग्रंथियों से निकलने वाले ये हार्मोन शरीर के सभी कार्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। आपके मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करने से लेकर आपकी प्रजनन शक्ति को बढ़ाने तक ये हार्मोन शरीर की जरूरी सभी प्रक्रियाओं को नियंत्रित करने का काम करते हैं। यही कारण है कि आपके हार्मोन में एक मिनट का परिवर्तन भी आपके पूरे शरीर पर गंभीर प्रभाव डाल सकता है। पुरुष हो चाहे महिलाएं दोनों को ही हार्मोनल असंतुलन के समान रूप से प्रभावित होने का खतरा रहता है। हार्मोनल असंतुलन का उपचार ज्यादातर मेडिटेशन द्वारा किया जाता है और कुछ आवश्यक जीवनशैली में बदलाव कर भी आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं। हार्मोन संतुलन को बनाए रखने के लिए आपको रोजाना हेल्दी भोजन के साथ-साथ व्यायाम करना होगा। लेकिन कई बार स्वस्थ भोजन भी आपके लक्षणों को और ज्यादा बदतर बना सकते हैं। इस लेख में हम आपको ऐसे 5 स्वस्थ खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जो हार्मोनल समस्या से निपटने के दौरान आपको सेवन से बचना चाहिए। तो आइए जानते हैं किन फूड का सेवन आपको नहीं करना चाहिए। 

बैंगन जैसी सब्जियां

बैंगन, मिर्च, आलू और टमाटर जैसी कुछ सब्जियों को कम मात्रा में खाने की सलाह दी जाती है। इन सब्जियों को आपके स्वास्थ्य के लिए अनहेल्दी माना जाता है क्योंकि इससे शरीर में सूजन हो सकती है। यहां तक कि कुछ क्रूसीफायर सब्जियां जैसे फूलगोभी, ब्रोकोली, और केल का सेवन हार्मोनल संतुलन के लक्षण को और बढ़ा सकते हैं। दोनों सब्जी समूह थायराइड से संबंधित जटिलताओं से जुड़े हैं।

इसे भी पढ़ेंः सेलिब्रिटी डायटीशियन रुजुता दिवेकर से जानें हेल्दी बाल और त्वचा के लिए खास डाइट, हार्मोनल असंतुलन होगा दूर

रेड मीट

संतृप्त और हाइड्रोजनीकृत फैट से भरपूर भोजन, जो आमतौर पर रेड मीट में पाया जाता है और प्रोसेस्ड मीट से भी बचा जाना चाहिए। अस्वास्थ्यकर वसा एस्ट्रोजेन के उत्पादन को बढ़ा सकता है और हार्मोनल असंतुलन के आपके लक्षणों को और खराब कर सकता है। इसके बजाय, अंडे और वसायुक्त मछली का सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। वसायुक्त मछली में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह ओमेगा -3 फैटी एसिड के सबसे अच्छा स्रोत हैं, जो स्वास्थ्य के लिए अच्छे भी होते हैं।

hormoneimbalance

स्टेविया

स्टीविया एक प्राकृतिक स्वीटनर है और परिष्कृत चीनी के लिए एक स्वस्थ विकल्प है। हालांकि अगर आप गर्भवती हैं या किसी हार्मोनल समस्या से पीड़ित हैं, तो स्टेविया से बचना सबसे अच्छा है। स्टेविया की थोड़ी मात्रा बहुत नुकसान नहीं पहुंचा सकती है, लेकिन स्टेविया का अधिक सेवन आपकी प्रजनन क्षमता या मासिक चक्र को खराब कर सकता है। सबसे अच्छा विकल्प शहद या गुड़ जैसे प्राकृतिक मिठास के विकल्प को चुनना है।

इसे भी पढ़ेंः Women’s Health: मेटाबोलिक और हार्मोनल बदलावों को ऐसे करें बैलेंस, डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें

सोया उत्पाद

आमतौर पर सोयाबीन और सोया उत्पाद स्वास्थ्य के लिए अच्छे माने जाते हैं। कुछ लोग डेयरी उत्पाद छोड़ देते हैं और सिर्फ सोया उत्पादों का सेवन शुरू कर देते हैं। हालांकि, यह कोई हेल्दी हैबिट नहीं है, खासकर अगर आप हार्मोनल समस्या से पीड़ित हैं तो। यह माना जाता है कि सोया उत्पादों की अधिकता से हार्मोनल लक्षण कम हो सकते हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि सोया में फाइटोएस्ट्रोजन नामक बायोएक्टिव पदार्थ होते हैं। यह शरीर में एस्ट्रोजन की तरह काम करता है। समस्या यह है कि पौधों से एस्ट्रोजन आपके प्राकृतिक हार्मोन के साथ विरोधाभास करता है और कई बार शरीर को यह सोचने में भ्रमित करता है कि आपूर्ति में पर्याप्त वास्तविक एस्ट्रोजन है। इसके कारण, हमारा शरीर कम एस्ट्रोजन का उत्पादन करता है, जो ओव्यूलेशन को प्रभावी ढंग से बंद कर सकता है।

डेयरी उत्पाद

दूध और अन्य डेयरी उत्पाद पोषक तत्वों से भरपूर खाद्य पदार्थों में से एक हैं, जो आपको स्वस्थ और फिट रखने में मदद कर सकते हैं। डेयरी उत्पाद कैल्शियम का एक समृद्ध स्रोत हैं, लेकिन आपको थोड़ा सतर्क रहना होगा क्योंकि वे आपके हार्मोन संतुलन को बाधित कर सकते हैं। इन सभी में से दूध सबसे खराब पेय है क्योंकि इससे आंत में सूजन हो सकती है और आपके पाचन तंत्र में जलन हो सकती है। डेयरी उत्पादों से सीबम उत्पादन में वृद्धि होती है और त्वचा की समस्याओं से ग्रस्त लोगों में मुंहासे बढ़ जाते हैं।

Read More Articles on Other Diseases in Hindi

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Online Classes Guideline: दिल्ली HC ने कहा- छात्र-छात्राओं को गैजेट्स-इंटरनेट न देना डिजिटल रंगभेद

Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 08:16 AM (IST) नई दिल्ली । Online Classes Guideline: दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा है कि कोरोना महामारी के बीच ऑनलाइन...

Realme Narzo 20A स्मार्टफोन ने भारतीय बाजार में दी दस्तक, कीमत 10 हजार रुपये से है कम

Publish Date:Mon, 21 Sep 2020 02:14 PM (IST) नई दिल्ली, टेक डेस्क. टेक कंपनी Realme ने Narzo 20 सीरीज के किफायती स्मार्टफोन Realme Narzo 20a...

प्रधानमंत्री से जामिया में मेडिकल कॉलेज की अनुमति देने का आग्रह किया

डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।भाषा | Updated: 17 Sep 2020,...

कोरोना वायरस का कहर, संसद का मानसून सत्र जल्द समाप्त होने का संभावना

नई दिल्ली: संसद (Parliament) का मानसून सत्र (Monsoon Session) एक अक्तूबर से पहले ही खत्म करने पर विचार हो रहा है. लोक सभा बीएसी...