Home बड़ी खबरें भारत ईमानदार टैक्सपेयर्स को क्या मिलेगा इनाम? कल PM मोदी करेंगे नए प्लेटफॉर्म...

ईमानदार टैक्सपेयर्स को क्या मिलेगा इनाम? कल PM मोदी करेंगे नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत

  • टैक्स से जुड़े एक नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत
  • इससे टैक्स के मामले में पारदर्शिता बढ़ेगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को टैक्स से जुड़े एक नए प्लेटफॉर्म की शुरुआत करने जा रहे हैं. ऐसा माना जा रहा है कि इससे टैक्स के मामले में पारदर्शिता बढ़ेगी और ईमानदार करदाताओं को प्रोत्साहित किया जाएगा. प्रधानमंत्री कल सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘ट्रांसपैरेंट टैक्सेशन: ऑनरिंग द ऑनेस्ट’ प्लेटफॉर्म की शुरुआत करेंगे.

इस प्लेटफॉर्म के द्वारा 15 अगस्त से पहले ही देश में ईमानदार करदाताओं को प्रोत्साहित करने की व्यवस्था शुरू हो जाएगी. गुरुवार को प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा देश में इनकम टैक्स के सभी प्रिंसिपल चीफ कमिश्नर और चीफ कमिश्नर जुड़ेंगे.

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार पिछले 3-4 हफ्तों में प्रधानमंत्री कार्यालय की देश के टैक्स अधिकारियों से कई दौर की बैठकों में फेसलेस अससेमेंट और पारदर्शिता आदि को लेकर चर्चा हुई है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल में कहा था कि फेसलेस असेसमेंट और अन्य कदमों से करदाताओं की परेशानी कम होगी ​और टैक्स व्यवस्था सरल होगी.

अक्सर उठती है मांग

गौरतलब है कि देश की कई संस्थाएं इनकम टैक्स व्यवस्था को खत्म करने या ईमानदार करदाताओं को प्रोत्साहित करने की मांग करती रही हैं. बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी तो इनकम टैक्स को खत्म कर देने की ही बात करते रहे हैं. तमाम जानकार यह भी कहते हैं कि भारत में इनकम टैक्स देने वाले को कोई प्रोत्साहन नहीं है बल्कि उसे प्रताड़ना का शिकार होना पड़ता है.

ये पढ़ें—मिडिल क्लास के लिए अच्छी खबर, मोदी सरकार जल्द देने वाली है ये तोहफा

पीएचडी चैम्बर ऑफ कॉमर्स यूपी चैप्टर के को-चेयरमैन और ग्लोबल टैक्सपेयर्स ट्रस्ट के अध्यक्ष मनीष खेमका कहते हैं, ‘इनकम टैक्स की व्यवस्था भेदभाव वाली है. विकसित देशों के तरीके से करदाता होने का यहां कोई लाभ नहीं मिल रहा. आस्ट्रेलिया, स्वीडन, अमेरिका जैसे ​ज्यादातर विकसित देशों में सभी नागरिकों को सामाजिक सुरक्षा का लाभ मिलता है और करदाता को कुछ खास रियायतें मिलती हैं. लेकिन भारत में तो करदाता को ही सामाजिक सुरक्षा से वंचित कर दिया जाता है.’

उन्होंने कहा कि ‘इसका उदाहरण आयुष्मान भारत योजना है. कितनी विडंबना है कि करदाता के पैसे से ही ये योजनाएं चलाई जाती हैं, लेकिन करदाता को इसका लाभ नहीं मिलता. जैसे रेलवे के एसी क्लास के रिजर्वेशन में यदि टैक्सपेयर्स को वरीयता मिले, या इसी तरह की कुछ अन्य रियायतें दी जाएं तो टैक्स देने को लोग प्रोत्साहित होंगे.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें

  • Aajtak Android IOS



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

अब कोरोना वॉरियर्स को लेकर राहुल गांधी का सरकार पर वार – थाली बजाने, दीया जलाने से ज्यादा जरूरी है…

सरकार के पास मरने वाले कोरोना वॉरियर्स का डाटा नहीं होने पर राहुल गांधी ने साधा निशाना (फाइल फोटो)नई दिल्ली: कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी को...

Bihar Assmbly Election 2020: हसनपुर में तेज प्रताप की उम्मीदवारी की चर्चा से बनने-बिगड़ने लगे सियासी समीकरण

Publish Date:Mon, 21 Sep 2020 08:14 PM (IST) समस्तीपुर, मुकेश कुमार। Bihar Assmbly Election 2020:  लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के बड़े बेटे...

Realme Narzo 10 को खरीदने का शानदार मौका, डिस्काउंट से लेकर कैशबैक तक मिलेंगे कई ऑफर्स

नई दिल्ली, टेक डेस्क। Realme के किफायती स्मार्टफोन Realme Narzo 10 की आज यानी 22 सितंबर को फ्लैश सेल है। यह सेल कंपनी...

मोदी ने फिर पूरे देश में करवा ली थू-थू/NATIONWIDE PROTEST AGAINST MODI

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम नेशनल दस्तक को आर्थिक तौर पर मजबूत करने के लिए हमें ज्वाइन करिये। ttps://www.youtube.com/channel/UC7IdArS3MibBKFsqckq8GhQ/join Download Bahujan Stories: UPI/Google Pay/Debit Card/Wallet/Phone Pe से...