Home बड़ी खबरें भारत 1000 करोड़ के हवाला केस में गिरफ्तार चीनी संदिग्ध के खिलाफ ED...

1000 करोड़ के हवाला केस में गिरफ्तार चीनी संदिग्ध के खिलाफ ED ने दर्ज किया केस

नई दिल्ली
1000 करोड़ रुपये के हवाला रैकेट (Chinese Money Laundering Case) के मामले में गिरफ्तार किए गए चीनी संदिग्ध लुओ सांग उर्फ चाली पैंग के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। इस केस में चार्ली पैंग समेत अन्य पर प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (PMLA ACT) की धाराओं के अंतर्गत केस दर्ज किया गया है। इससे पहले भारतीय एजेंसियों मे चार्ली पैंग (CHARLIE PENG) को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की थी और इसके आधार पर कई महत्वपूर्ण खुलासे भी किए थे।

एजेंसियों का कहना है कि गिरफ्तार चीनी नागरिक लुओ सांग के मामले में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। भारत में ‘चार्ली पेंग’ के फर्जी नाम से रह रहा सांग दरअसल यहां चीन के लिए जासूसी कर रहा था। वह दिल्ली समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में निर्वासित तिब्बतियों से घुल-मिलकर और उनके ठौर-ठिकानों का पता लगा रहा था और इसकी जानकारी चीन की खुफिया एजेंसी ‘एमएसएस’ यानी मिनिस्ट्री ऑफ स्टेट सिक्योरिटी को भेज रहा था।

चीन का हवाला रैकेटः दलाई लामा की जासूसी के लिए दी गई रिश्वत

दलाई लामा की जासूसी की साजिश
सांग अपने जासूसी के सीक्रेट ऑपरेशन का ट्रांजिट कैंप दिल्ली के मजनूं का टीला में बनाया हुआ था। वह कई लामाओं को रिश्वत देकर तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा और उनके सहयोगियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने में जुटा था। MSS इस काम के लिए उसे हवाला से पैसे भेज रही थी।

लू सांग के पास था फर्जी पासपोर्ट
चीनी संस्थाओं द्वारा चलाए जा रहे एक हवाला रैकेट की जांच में आयकर अधिकारियों ने पाया है कि एक संदिग्ध व्यक्ति लू सांग ने अपनी पहचान बदलकर चार्ली पैंग कर ली थी, जो कि एक भारतीय नागरिक था। उसके पास भारतीय पासपोर्ट और यहां तक कि आधार कार्ड भी था। उसकी शादी मणिपुर की एक लड़की से हुई थी। उसके पास से मणिपुर से जारी किया गया पासपोर्ट मिला है।

चीनी

जासूस चार्ली पेंग ने मजनूं का टीला में बनाया था सीक्रेट ऑपरेशन का कैंप

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने किया था भंडाफोड़
आयकर विभाग ने पिछले ही हफ्ते कुछ चीनी व्यक्तियों और उनके भारतीय सहयोगियों द्वारा चलाए जा रहे एक हवाला रैकेट का भंडाफोड़ किया था। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि लू सांग नाम का व्यक्ति भारत में हवाला के संचालन के लिए कई चीनी फर्मों का प्रतिनिधित्व कर रहा था।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

आईआईटी-कानपुर के फैशनेबल मास्क रोकेंगे कोरोना

कानपुर, 21 सितंबर (आईएएनएस)। कोरोनाकाल में मास्क जान बचाने का जरिया बन गया है, इसलिए आईआईटी-कानपुर ने लोगों की सेहत को ध्यान...

Yuzvendra Chahal की मंगेतर धनाश्री ने ‘कमरिया’ सॉन्ग पर किया ऐसा धमाकेदार डांस, Video ने मचा दी धूम

धनाश्री वर्मा (Dhanashree Verma) ने नोरा फतेही (Nora Fatehi) के गाने पर किया धमाकेदार डांसखास बातेंधनाश्री वर्मा ने नोरा फतेही के 'कमरिया' सॉन्ग पर...

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- Sudarshan TV को विवादित शो के लिए जारी गया नोटिस, टली सुनवाई

नई दिल्लीकेंद्र सरकार ने यूपीएससी जेहाद प्रोग्राम प्रसारित करने वाले सुदर्शन TV (Sudarshan TV) को प्रोग्राम कोड के उल्लंघन के मामले में नोटिस जारी...

ऑनलाइन शिक्षा के प्रति शिक्षक नहीं दिखा रहे रुचि

Publish Date:Mon, 21 Sep 2020 06:39 PM (IST) जागरण संवाददाता, कोडरमा : कोरोना काल में ऑनलाइन शिक्षा जरूरत बन गई है। निजी स्कूलों के साथ-साथ...

COVID 19: दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन बोले- अगले दो हफ्ते में आ सकता है कोरोना का डाउन ट्रेंड

नई दिल्ली: दिल्ली में कोरोना के कुल मामले ढाई लाख के पार जा चुके हैं. सोमावर को दिल्ली में...

दिल्ली को नहीं मिली कोविड पैकेज की दूसरी किस्त, अधिकारी चुप

कोरोना महामारी से लड़ने के लिए केंद्र सरकार द्वारा घोषित कोविड पैकेज की दूसरी किस्त दिल्ली समेत छह राज्यों को नहीं मिली है। आधिकारिक...