Home राज्यवार झारखण्ड निर्माणाधीन सड़क में मिली कई अनियमितताएं

निर्माणाधीन सड़क में मिली कई अनियमितताएं

Publish Date:Mon, 17 Aug 2020 07:21 PM (IST)

संवाद सूत्र जयनगर (कोडरमा): प्रखंड के मधवाटांड़ स्थित आरईओ सड़क से लेकर पीस्पीरो होते हुए यदुडीह रेलवे ब्लॉक हॉल्ट तक करोड़ों की लागत से बन रहे सड़क की जांच कोडरमा के उपायुक्त रमेश ने सोमवार को की। इस दौरान उपायुक्त ने सड़क में कई जगह खुदाई कराकर निर्माण की गुणवत्ता की जांच की। जबकि ग्रेड वन, ग्रेड टू का सैंपल भी जांच के लिए भेजने का निर्देश दिया। उन्होंने सड़क पर बनाए गए पुलिया, कलवर्ट तथा पीसीसी की भी जांच की। जांच के दौरान उन्होंने सड़क में कई अनियमितताएं पाई। इस दौरान उन्होंने आरईओ के कनीय अभियंता मिथिलेश बागे को फटकार भी लगाई। बता दें कि करोड़ों की लागत से बन रहे उक्त सड़क का शिलान्यास वर्ष 2017 में हुआ था, जो आज तक पूर्ण नहीं हो पाया। हालांकि उक्त सड़क का निर्माण कार्य जमीन विवाद को लेकर निर्माण कार्य बंद हो गया था। इसे लेकर राज कंस्ट्रक्शन के संवेदक राजकुमार यादव के द्वारा उपायुक्त को लिखित आवेदन दिया गया था और सड़क का निर्माण पूर्ण कराने की मांग की गई थी।

76 लाख रुपए की हो चुकी है निकासी, विभाग को प्राक्कलन का पता नह ं

जयनगर : कोडरमा के उपायुक्त के जांच के दौरान विभागीय अधिकारियों से जब प्राक्कलन के बारे में पूछा गया तो कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं मिल पाया। यहां तक कि संवेदक भी प्राक्कलन राशि बताने से हिचकते रहे। निर्माण कार्य स्थल पर योजना का बोर्ड भी नहीं लगा हुआ था, जिससे आम लोगों के साथ-साथ अधिकारियों को भी यह पता चल पाए कि आखिर इस योजना का प्राक्कलन राशि कितना है? हालांकि जांच के दौरान यह बात सामने आई कि उक्त योजना में 76 लाख रू की राशि की निकासी हो चुकी है।

जमीन विवाद को लेकर रुका हुआ था काम

जयनगर: सड़क का निर्माण कार्य जमीन विवाद को लेकर रुका हुआ था। जब उपायुक्त महोदय के पहुंचने की सूचना ग्रामीणों को हुई तो ग्रामीणों को लगा कि जमीन विवाद समाप्त होगा और सड़क का निर्माण कार्य शुरू होगा, परंतु इस विषय पर कोई चर्चा नहीं हुई।

नवनिर्मित प्रखंड सह अंचल कार्यालय भवन का भी किया निरीक्षण

जयनगर: उपायुक्त रमेश घोलप ने सोमवार को जयनगर प्रखंड मुख्यालय में 3.5 करोड़ की लागत से नवनिर्मित प्रखंड सह अंचल कार्यालय के भवन का भी निरीक्षण किया। उन्होंने 30 अगस्त तक अधूरे कार्यों को पूरा करने का निर्देश विभागीय अधिकारी को दिया। उपायुक्त घोलप ने पीडब्ल्यूडी के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया कि प्रखंड सह अंचल कार्यालय की चारदीवारी के लिए प्राक्कलन तैयार करें और शीघ्र ही इसकी चारदीवारी निर्माण कराएं। इसके पश्चात उपायुक्त रमेश घोलप ने प्रखंड विकास पदाधिकारी अमित कुमार को निर्देश देते हुए कहा कि प्रखंड सह अंचल कार्यालय के सामने बसे भंगी परिवार को नोटिस देकर हटाएं। बावजूद अगर ये लोग हटने को तैयार नहीं हुए तो कार्रवाई करें। इस अवसर पर आरईओ के एसडीओ प्रमोद कुजूर, डीपीओ रामनिवास सिंह, जिला खनन पदाधिकारी मिहिर सलकर, कनीय अभियंता मिथिलेश बागे, प्रखंड विकास पदाधिकारी अमित कुमार आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

सोना 6444 और चांदी 19758 रुपये तक हो चुकी है सस्ती, क्या और गिरेंगे दाम

पिछले चार दिन से सोना जहां सस्ता हो रहा है, वहीं चांदी औंधेमुंह गिरी है। सर्राफा बाजार में शुक्रवार को सोना 51620 रुपये...

कब रोए बाबासाहेब फूट फूट कर ? और लिया ऐतिहासिक महासंकल्प! जानिए Sankalp Diwas History, Babsaheb

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम #Sankalp_Diwas #Babasaheb #23_september #Samyakindiatv सम्यक इंडिया टीवी को जिंदा रखने के लिए आपके आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। बैंक डिटेल्स नीचे दी...

UP News: प्रेमिका से शादी करने को यूपी के शख्स ने रची खुद के अपहरण की साजिश, पुलिस ने राजस्थान से दबोचा

आगरायूपी के मैनपुरी जिले में एक 32 साल के शादीशुदा व्यक्ति ने अपने ही अपहरण की साजिश रची, ताकि वह लेनदारों के 12 लाख...

कोरोना संकट के बीच DU ने मांगी सेमेस्टर फीस, स्टूडेंट कर रहे विरोध

Updated Sun, 20th Sep 2020 09:35 AM IST स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) ने दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रों को पूर्ण सेमेस्टर की फीस का...

हेमंत के सॉफ्ट रुख से आंदोलनरत सहायक पुलिसकर्मियों को मिल सकती है बड़ी राहत – NEWSWING

Ranchi :  अपनी मांगों को लेकर पिछले कई दिनों से राजधानी के मोरहाबादी मैदान में आंदोलनरत सहायक पुलिसकर्मियों के प्रति मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने...