Home दुनिया सऊदी अरब को मनाने पहुंचे पाकिस्तानी सेना प्रमुख, शाह महमूद कुरैशी की...

सऊदी अरब को मनाने पहुंचे पाकिस्तानी सेना प्रमुख, शाह महमूद कुरैशी की जा सकती है कुर्सी

रियाद
पाकिस्तान की सेना के चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा सोमवार को सऊदी अरब पहुंचे हैं। हाल के दिनों में दोनों देशों के बीच संबंध इस कदर तल्ख हो गए थे कि सऊदी ने पाकिस्तान से अरबों डॉलर का कर्ज चुकाने को कह डाला। माना जा रहा है कि बाजवा इन्हीं हालात को सुलझाने की कोशिश में गए हैं। दरअसल, पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने पिछले दिनों सऊदी पर तीखा हमला कर डाला था जिसके बाद यह चर्चा शुरू हो गई थी कि पाकिस्तान को इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। खास बात यह रही कि सरकार के मंत्रियों ने भी कुरैशी की आलोचना की है जिससे माना जा रहा है कि कुरैशी की कुर्सी पर खतरा हो सकता है।

सऊदी को मनाने पहुंचे बाजवा
बाजवा सोमवार सुबह 10 बजे रियाद पहुंचे हैं और उनके साथ ISI अध्यक्ष जनरल फैज हमीद भी हैं। रॉयटर्स ने दो सीनियर सैन्य अधिकारियों के हवाले से बताया कि रियाद पाकिस्तान के आलोचना करने से नाराज है जिससे सेना अध्यक्ष को वहां जाना पड़ा है। हालांकि, आधिकारिक तौर पर यही कहा जा रहा है कि यह दौरा पहले से तय था और इस पर सेना से संबंधित मुद्दों पर ही बातचीत होगी।

सऊदी अरब से माफी मांगने जाएंगे पाक आर्मी चीफ बाजवा, कुरैशी के बयानों से रिश्ते तल्ख

सऊदी ने वापस मांग लिया था अरबों डॉलर का कर्ज
दरअसल, कुरैशी ने कश्मीर मुद्दे पर भारत के खिलाफ OIC (अर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कोऑपरेशन) को न खड़ा होने देने के लिए सऊदी अरब की आलोचना कर डाली थी। यही बात सऊदी को नागवार गुजरी। इसका असर फौरन देखने को भी मिला जब सऊदी ने 2018 में दिए गए 3 अरब डॉलर के कर्ज और 3.2 अरब के ऑइल क्रेडिट फसिलटी की मदद को वापस चुकाने के लिए कह डाला। उसने दो बार में पाकिस्तान से एक-एक अरब डॉलर चुकाने को कहा।

कश्मीर मुद्दे को लेकर कुरैशी ने की थी आलोचना
पाकिस्‍तानी न्‍यूज चैनल एआरवाई को दिए साक्षात्‍कार में कुरैशी ने कहा था, ‘मैं एक बार फिर से पूरे सम्‍मान के साथ ओआईसी से कहना चाहता हूं कि विदेश मंत्रियों की परिषद की बैठक हमारी अपेक्षा है। यदि आप इसे बुला नहीं सकते हैं तो मैं प्रधानमंत्री इमरान खान से यह कहने के लिए बाध्‍य हो जाऊंगा कि वह ऐसे इस्‍लामिक देशों की बैठक बुलाएं जो कश्‍मीर के मुद्दे पर हमारे साथ खड़े होने के लिए तैयार हैं।’

OIC में सऊदी का दबदबा
संयुक्‍त राष्‍ट्र के बाद ओआईसी दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा संगठन है। पाकिस्‍तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक ओआईसी की बैठक न होने के पीछे एक बड़ी वजह सऊदी अरब है। सऊदी अरब ओआईसी के जरिए भारत को कश्‍मीर पर चित करने की पाकिस्‍तानी चाल में साथ नहीं दे रहा है। दरअसल, ओआईसी में किसी भी कदम के लिए सऊदी अरब का साथ सबसे ज्‍यादा जरूरी होता है। ओआईसी पर सऊदी अरब और उसके सहयोगी देशों का दबदबा है।

पाकिस्तान सेना अध्यक्ष रियाद पहुंचे

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

BPSC ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी APO पद के दो सौ परीक्षार्थियों का आवेदन इन वजहों से किया रद्द 

बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने सहायक अभियोजन पदाधिकारी परीक्षा के लिए आवेदन आमंत्रित किये थे। इसमें लगभग पौने दो सौ परीक्षार्थियों ने...

गुप्तेश्वर पांडेय बोले- बिहार में कहीं से भी चुनाव जीत सकता हूं, 14 सीट से ऑफर मिला; चुनाव आयोग हटाता तो बेइज्जती होती

Hindi NewsLocalBiharGupteshwar Pandey JDU Ticket Update: Former Bihar DGP Gupteshwar Pandey On Election Commission Over Bihar Assembly Election 2020पटनाएक घंटा पहलेकॉपी लिंकबिहार के पूर्व...

राशिफल 19 सितम्बर : आज है आश्विन शुक्ल पक्ष की द्वितीया, जानिए कैसा बीतेगा आपका दिन

युगाब्ध-5122, विक्रम संवत 2077, राष्ट्रीय शक संवत-1942 सूर्योदय 06.08, सूर्यास्त 06.23, ऋतु – शरद आश्विन शुक्ल पक्ष द्वितीया, शनिवार, 19 सितम्बर 2020 का दिन आपके लिए...

फेस मास्क का इस्तेमाल करते समय भूल से भी न करें ये गलतियां

फेस मास्क का इस्तेमाल करते समय भूल से भी न करें ये गलतियां 0){setTimeout(function(){body.item(0).classList.remove('styles-loading');}, 10);}"> ...

दिल्ली में पानी बिल आया 500 करोड़, सदमे में घर के मुखिया मोतीराम; बिगड़ी तबीयत तो दौड़े डॉक्टर के पास

नई दिल्ली । राजधानी दिल्ली में बीस हजार लीटर प्रतिमाह पानी मुफ्त है, लेकिन इसके बावजूद दिलशाद गार्डन स्थित चार सदस्यों के परिवार...