Home राज्यवार मुंबई Sushant Rajput Case: फैसला आते ही ऐक्‍शन में CBI, गुरुवार को मुंबई...

Sushant Rajput Case: फैसला आते ही ऐक्‍शन में CBI, गुरुवार को मुंबई पुलिस से लेगी सारे सबूत

सुशांत सिंह राजपूत केस में आखिरकार सुप्रीम कोर्ट ने अपना वह फैसला सुना दिया है जिसका उनके चाहने वालों को लंबे समय से इंतजार था। अब केस की जांच कोर्ट ने सीबीआई के जिम्मे सौंप दी है और मामले की गंभीरता को भांपते हुए टीम फौरन ऐक्शन लेने की तैयारी में एक बार फिर से जुट गई है। खबर है कि टीम सबसे पहले इस केस में मुंबई पुलिस सबूत इकट्ठे करेगी।

सीबीआई जांच को लेकर कोर्ट के इस फैसले पर जहां फैन्स में न्याय को लेकर भरोसा बढ़ा है, वहीं महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस आलोचनाओं से घिर गई है। बता दें कि इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार की सिफारिश पर केन्द्र सरकार ने सुशांत मामले की जांच सीबीआई से जांच कराने की अनुमति दे दी थी और इसे लेकर एसआईटी का गठन भी कर लिया गया था।

बताया जा रहा है कि सीबीआई की SIT टीम कल यानी गुरुवार को मुंबई जाएगी और मुंबई पुलिस के पास मौजूद सारे सबूत को अपने कब्जे में लेगी। सीबीआई की इस डांट टीम में दो एसपी और जांच अध‍िकारी शाम‍िल होंगे। दरअस इस मामले में बस सुप्रीम कोर्ट के फैसले का ही इंतजार किया जा रहा था।

सुशांत की बहन से फरीदाबाद में हो चुकी है पूछताछ
सीबीआई टीम कुछ दिनों पहले (10 अगस्त) को फरीदाबाद पहुंचकर वहां सुशांत सिंह राजपूत के जीजा ओपी सिंह के घर पर उनके पिता केके सिंह और उनकी बहन मीतू का बयान दर्ज कर चुकी है।

सीबीआई की स्पेशल टीम- एसआईटी का गठन
सीबीआई सुशांत मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन पहले ही कर चुकी है। कहा जा चुका है कि इस केस में गुजरात कैडर के आईपीएस मनोज शशिधर नेतृत्व में एसआईटी गठित की गई है। गुजरात कैडर की महिला आईपईएस ऑफिसर गगनदीप गंभीर भी इस केस की टीम का हिस्सा हैं। जांच के लिए अनिल यादव को (इन्वेस्टिगेटिंग ऑफिसर) आईओ नियुक्त किया जा चुका है।

6 लोगों के खिलाफ किया जा चुका है केस दर्ज
बता दें कि 6 अगस्त की केन्द्र सरकार से हरी झंडी मिलते ही सीबीआई ने औपचारिक तौर पर 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया था और इसी के साथ मामले की डांच अपने हाथ में ले ली थी। सीबीआई सुशांत की गर्लफ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती के अलावा उनके पिता इंद्रजीत, मां संध्या, भाई शौविक, सहयोगी सैमुअल मिरांडा और श्रुति मोदी के खिलाफ पहले ही केस दर्ज कर चुकी है।

फैसला सुशांत सिंह राजपूत के चाहनेवालों के पक्ष में
आज सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुशांत सिंह राजपूत के चाहनेवालों के पक्ष में दिया है और इस केस में सीबीआई जांच की मंजूरी दे दी है। कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए यह माना कि मुंबई पुलिस ने इस केस में जांच नहीं की है बल्कि केवल इन्‍क्‍वायरी की है। कोर्ट ने साफ कर दिया है कि इस केस जुड़े हर मामले को अब सीबीआई ही देखेगी।

कोई भी एफआईआर इस मामले में दर्ज हुई तो सीबीआई देखेगी
बता दें कि कोर्ट ने इस सुनवाई में 35 पन्‍नों का जजमेंट दिया है और पटना में दर्ज एफआईआर को SC ने सही पाया है। कोर्ट ने कहा कि बिहार सरकार जांच की सिफारिश करने में सक्षम है। पटना कोर्ट की एफआईआर को कोर्ट ने सही पाया है। कोर्ट ने कहा कि बिहार सरकार जांच की सिफारिश करने में सक्षम है। कोर्ट ने माना है क‍ि मुंबई पुलिस ने जांच नहीं की। कोर्ट ने कहा है क‍ि मुंबई पुलिस ने सुशांत केस में जांच नहीं की है, बल्कि इस मामले में बस इन्‍क्‍वायरी की। आखिरकार सुप्रीम कोर्ट ने यह मामला पूरी तरह से सीबीआई को सौंप दिया है। कोर्ट ने साफ कहा कि आगे कोई भी एफआईआर इस मामले में दर्ज हुई तो सीबीआई देखेगी।

रहस्य की छानबीन के लिए सीबीआई कंपिटेंट जांच एजेंसी
सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में कहा है कि ये सुनिश्चित किया जाए कि सुशांत सिंह राजपूत के मौत के पीछे के रहस्य की छानबीन के लिए सीबीआई कंपिटेंट जांच एजेंसी है और कोई भी राज्य पुलिस उसकी जांच में दखल न दे। सुशांत के पिता केके सिंह के वकील विकास सिंह ने एनबीटी को बताया कि सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में साफ किया है कि बिहार सरकार सीबीआई जांच के लिए केस रेफर करने के लिए सक्षम है। पटना में दर्ज केस वैध है।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Delhi DTC E-Ticket: मोबाइल ऐप के जरिये दिल्ली की बसों में ले सकेंगे ई-टिकट, नवंबर से होगी शुरुआत

नई दिल्ली । Delhi DTC E-Ticket:  दिल्ली परिवहन विभाग ने अपनी बसों में संपर्क रहित ई-टिकटिंग ऐप 'चार्टर' के दूसरे चरण के ट्रायल को...

Modi Govt Introduced New Labour Bills in Lok Sabha to Cut Off Labour Rights | Santosh Gangwar | MNTv

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- For More information to Also, Subscribe Our YouTube Channel: 1. MN News Bihar: 2. MN News Uttar Pradesh: 3....

मंत्रियों और सांसदों के वेतन, भत्ते में कटौती संबंधी विधेयकों को राज्य सभा की मंजूरी

नई दिल्लीराज्यसभा ने मंत्रियों के वेतन और भत्तों से संबंधित संशोधन विधेयक और सांसदों के वेतन, भत्ते में एक वर्ष के लिए 30 प्रतिशत...

KYC वेरिफिकेशन और अनजान ऐप को डाउनलोड करने का कॉल आए तो 100 बार सोचें, लालच में गंवा सकते हैं लाखों रुपये

मुंबई बोरीवली के साईं बाबा नगर में रहने वाले 36 वर्षीय रामचंद्र पांडेय के मोबाइल पर करीब 15 दिन पहले किसी अनजान व्यक्ति का...