Home राज्यवार मुंबई बिहार पुलिस की जांच में मुंबई पुलिस की अड़ंगेबाजी ने जांच की...

बिहार पुलिस की जांच में मुंबई पुलिस की अड़ंगेबाजी ने जांच की शुचिता पर संदेह खड़े किये: न्यायालय

डिसक्लेमर:यह आर्टिकल एजेंसी फीड से ऑटो-अपलोड हुआ है। इसे नवभारतटाइम्स.कॉम की टीम ने एडिट नहीं किया है।

| Updated: 19 Aug 2020, 06:51:00 PM

नयी दिल्ली, 19 अगस्त (भाषा) उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की ‘अस्वाभाविक मृत्यु’ से संबंधित मामले के रिकार्ड से पहली नजर में मुंबई पुलिस द्वारा ‘कुछ गलत किये जाने का संकेत’’ नहीं मिलता है लेकिन बिहार पुलिस के काम में अड़ंगेबाजी से वह बच सकती थी क्योंकि इसने ही इस जांच की शुचिता पर संदेह खड़े किये। शीर्ष अदालत ने अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ राजपूत की हत्या के सिलसिले में पटना में दर्ज प्राथमिकी की सीबीआई द्वारा की जा रही जांच को मंजूरी देते हुये कहा कि मुंबई पुलिस ने अभी तक प्राथमिकी

 

नयी दिल्ली, 19 अगस्त (भाषा) उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को कहा कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की ‘अस्वाभाविक मृत्यु’ से संबंधित मामले के रिकार्ड से पहली नजर में मुंबई पुलिस द्वारा ‘कुछ गलत किये जाने का संकेत’’ नहीं मिलता है लेकिन बिहार पुलिस के काम में अड़ंगेबाजी से वह बच सकती थी क्योंकि इसने ही इस जांच की शुचिता पर संदेह खड़े किये। शीर्ष अदालत ने अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ राजपूत की हत्या के सिलसिले में पटना में दर्ज प्राथमिकी की सीबीआई द्वारा की जा रही जांच को मंजूरी देते हुये कहा कि मुंबई पुलिस ने अभी तक प्राथमिकी दर्ज नहीं की है और वह दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 174 के तहत जांच कर रही है, जो अस्वाभाविक मृत्यु के कारणों का पता लगाने तक सीमित है। न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय ने अपने फैसले में कहा कि रिया चक्रवर्ती के वकील ने मुंबई पुलिस में भरोसा व्यक्त किया है जबकि बिहार का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता का दावा है कि वह असली तथ्यों को दबा रही है और पेशेवर तरीके से जांच नहीं कर रही है। न्यायालयय ने कहा कि राजपूत के पिता और बिहार सरकार ने आरोप लगाया है कि मुंबई पुलिस राजनीतिक दबाव में असली दोषियों को बचाने का प्रयास कर रही है जबकि महाराष्ट्र सरकार ने इन आरोपों का जोरदार तरीके से प्रतिवाद किया है और उसका कहना है कि पटना पुलिस को इस अपराध की जांच का अधिकार नहीं है, क्योंकि यह मुंबई में हुआ हैं। न्यायालय ने कहा कि इस मामले में मुंबई पुलिस बगैर प्राथमिकी दर्ज किये ही धारा 174 के दायरे को खींचने का प्रयास कर रही है और इसीलिए ऐसा लगता है कि मुंबई पुलिस एक संज्ञेय अपराध की जांच नहीं कर रही है। इसलिए यह कहना जलदबाजी होगी कि मुंबई पुलिस समानांतर जांच कर रही है। शीर्ष अदालत ने कहा कि मुंबई में भावी स्थिति की अनिश्चितता को देखते हुये ही राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिंह ने पटना में दायर शिकायत में चक्रवर्ती के खिलाफ गंभीर आरोप लगाये, जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गयी। न्यायालय ने कहा कि बिहार सरकार के अनुरोध पर सीबीआई ने यह मामला अपने हाथ में ले लिया है। याचिकाकर्ता को सीबीआई जांच में कोई आपत्ति नहीं है लेकिन वह बिहार सरकार और पटना पुलिस द्वारा उठाये गये कदमों को लेकर सशंकित है। न्यायालय ने कहा कि चक्रवर्ती की याचिका लंबित होने के दौरान ही पटना में दर्ज प्राथमिकी बिहार सरकार की सहमति से सीबीआई को हस्तांतरित कर दी गयी है।

Navbharat Times News App: देश-दुनिया की खबरें, आपके शहर का हाल, एजुकेशन और बिज़नेस अपडेट्स, फिल्म और खेल की दुनिया की हलचल, वायरल न्यूज़ और धर्म-कर्म… पाएँ हिंदी की ताज़ा खबरें डाउनलोड करें NBT ऐप

Web Title : mumbai police’s obstruction in bihar police’s investigation raises doubts on the accuracy of investigation
Hindi News from Navbharat Times, TIL Network

पाइए भारत समाचार (India News), सबसे पहले नवभारत टाइम्स पर। नवभारत टाइम्स से हिंदी समाचार (Hindi News) अपने मोबाइल पर पाने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App और रहें हर खबर से अपडेट।

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

Modi Govt Introduced New Labour Bills in Lok Sabha to Cut Off Labour Rights | Santosh Gangwar | MNTv

बहुजन पोस्ट डॉट कॉम ----------------------------------------------------------------------------------------------------------- For More information to Also, Subscribe Our YouTube Channel: 1. MN News Bihar: 2. MN News Uttar Pradesh: 3....

द्वारका व रोहिणी 50,000 परिवारों के लिए राहत भरी खबर, ऑनलाइन करें पानी बिल का भुगतान

Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 01:01 PM (IST) नई दिल्ली । Water Bill Online Payment, DDA:  अगर आप दिल्ली विकास प्राधिकरण (Delhi Development Authority) द्वारा...

धोनी का वर्ल्ड कप जिताने वाला सिक्सर याद है! वो अब स्टेडियम में अमर होने वाला है

Dhoni finishes off in style, a magnificent strike into the crowd. India lift the world cup after 28 years. रवि शास्त्री की बुलंद आवाज़ में...

कृष्णा श्रॉफ बॉयफ्रेंड संग हाथों में हाथ डाले बीच पर सैर करती आईं नजर, देखें Viral Video

कृष्णा श्रॉफ (Krishna Shroff) बॉयफ्रेंड एबन ह्याम्स (Eban Hyams) के साथ सैर करती आईं नजरखास बातेंकृष्णा श्रॉफ बॉयफ्रेंड संग हाथों में हाथ डाले बीच...

Bihar B.Ed CET Exam -2020: कोविड प्रोटोकॉल का पालन होगा पालन, इन सामग्री पर है पाबंदी, परीक्षा से पहले पढ़ लें दिशा निर्देश

बिहार बीएड CET परीक्षा 2020: बिहार बीएड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 (सीईटी-बीएड.-2020) की तैयारी पूरी हो गई है। यह परीक्षा 22 सितंबर को सूबे...

दुनिया की प्रभावशाली हस्तियों की टाइम पत्रिका की लिस्ट में आने पर बोलीं बिल्किस- …तब होती ज्यादा खुशी

नई दिल्लीदिल्ली के शाहीन बाग में महिलाओं के नेतृत्व में चले ऐंटी-सीएए प्रदर्शन का प्रमुख चेहरा रहीं बिल्किस ने गुरुवार को कहा कि टाइम...