Home राज्यवार उत्तर प्रदेश Deoria news: पिटाई में घायल युवक की मौत! गांव के दबंगों पर...

Deoria news: पिटाई में घायल युवक की मौत! गांव के दबंगों पर आरोप

हाइलाइट्स:

  • देवरिया में दबंगों की पिटाई में घायल हुआ था एक युवक
  • सोहनपुर गांव में बीच-बचाव के दौरान दबंगों ने की थी पिटाई
  • मृतक की आटा-चक्की का ताला तोड़कर अनाज भी लूटा
  • देवरिया के एएसपी ने मामले में दिया सख्त कार्रवाई का भरोसा

प्रकाशिनी मणि त्रिपाठी, देवरिया
उत्तर प्रदेश के देवरिया में दबंगों की पिटाई में घायल युवक ने दम तोड़ने की खबर है। यहां के सोहनपुर गांव के कुछ दबंगों ने एक युवक को लाठी-डंडे से पीटकर लहूलुहान कर दिया था। पुलिस का कहना है कि घायल हरेंद्र चौरसिया की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई है। वहीं पीड़ित पक्ष का आरोप है जब वह थाने पर रिपोर्ट दर्ज करवाने गए तो थाना प्रभारी ने धमकी देते हुए उल्टा पीड़ित पर ही हरिजन ऐक्ट लगाने की धमकी दी। गम्भीर रूप से घायल युवक को गोरखपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

क्या है पूरा मामला
15 अगस्त की शाम को सोहनपुर गांव के सुमित चौरसिया सब्जी लेने निकले थे। इसी दौरान गांव के ही नन्दलाल भारती, रोहित, सुनील भारती साथ कुछ अन्य युवकों ने गोलबंद करते हुए उन्हें घेर लिया और लाठी-डंडे से मारपीट शुरू कर दी। घायल युवक ने शोर मचाना शुरू किया तो गांव के ही कुछ अन्य युवक बीच बचाव करने के लिए आए। इसी दौरान योगेंद्र चौरसिया, हरेंद्र चौरसिया और रविंद्र चौबे बचाव करने आए तब तक सभी ने इनके ऊपर भी लाठी डंडे से मारकर घायल कर दिया। पिटाई में रविंद्र के हाथ पर गम्भीर चोट आई तो वहीं हरेंद्र चौरसिया के सिर पर वार करने से गम्भीर चोट आई। जिसके बाद हरेंद्र बेहोश हो गया।

गेहूं, आटा और चीनी उठा ले गए
इसी दौरान गांव की सुनीता देवी, लखीचन्द्र, मालती, कमलावती गांव के कुछ लोगों के साथ ईंट, पत्थर, लाठी डंडे लेकर आए और रविंद्र चौबे के आटा चक्की का ताला तोड़कर कर 3 क्विंटल गेंहू, 50 किलो आटा, नकदी उठा ले गए। इसके बाद वे योगेंद्र चौरसिया के किराना की दुकान में घुस गए और वहां से 20 किलो चीनी, एक बोरी आलू उठा ले गए। गांव के ही एक युवक ने 112 पर फोन कर पुलिस को इसकी सूचना दी। जब तक पुलिस आई तब तक आरोपी फरार हो गए।

युवक की इलाज के दौरान हुई मौत
गांव के लोगों ने बुरी तरह से घायल हरेंद्र चौरसिया को सलेमपुर सरकारी अस्पताल में इलाज कराए हालत गम्भीर देखते हुए पहले देवरिया के जिला अस्पताल और फिर वहां से गोरखपुर मेडिकल कॉलेज रैफर कर दिया गया। जहां डॉक्टरों ने कोरोना की वजह से भर्ती करने से मना कर दिया। उसके बाद परिजनों ने तारामंडल स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। देवरिया के एएसपी का कहना है वादी सुमित चौरसिया के तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर सम्बंधित थाने में कार्रवाई की जा रही है। दोषियों की धरपकड़ के लिए पुलिस कोशिश कर रही है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

चीन की खतरनाक चाल, डोकलाम के पास तैनात किया परमाणु बॉम्‍बर, क्रूज मिसाइल

हाइलाइट्स:लद्दाख में हजारों सैनिकों की तैनाती करने वाला चीन अब भारत के पूर्वी हिस्‍से में नया मोर्चा खोल रहा हैचीन ने भूटान से लगे...

कोरोना संकट में दोस्‍त भारत ने दी सबसे बड़ी मदद, मालदीव ने UN में दिया धन्‍यवाद

हाइलाइट्स:मालदीव ने 25 करोड़ डॉलर की वित्तीय सहायता मुहैया कराने पर भारत को धन्यवाद दिया हैभारत इस महामारी से निपटने के लिए मालदीव को...

पंचायत में हुआ अन्याय तो न्याय के लिए एसपी ऑफिस पहुंची नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता ने सीढ़ियों पर ही बच्चे को दिया जन्म

किशनगंज4 घंटे पहलेकॉपी लिंकपिछले 10 माह में पांच बार हुई पंचायत युवक शादी का झांसा देकर करता रहा दुष्कर्म, गर्भवती होने पर शादी से...