Home राज्यवार बिहार पटना: मीठापुर पुल बंद: बदले ट्रैफिक को समझकर निकलिए, वरना पटना में...

पटना: मीठापुर पुल बंद: बदले ट्रैफिक को समझकर निकलिए, वरना पटना में चक्कर लगाते रह जाएंगे – दैनिक भास्कर

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar: Patna Mithapur Bridge Closed, Understand The Changed Traffic, Otherwise It Will Continue To Revolve In Patna

पटना3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

जमाल रोड के पास से चिरैयाटांड़ पर चढ़ना अभी ही मुश्किल हो गया है। परेशानी इसलिए भी बढ़ेगी क्योंकि स्टेशन के सामने पुल से जाने का रास्ता अब बंद हो गया है।

  • अनीसाबाद, फुलवारी से मीठापुर बस स्टैंड या करबिगहिया जाने-आने के लिए बाइपास ही रास्ता
  • बेली रोड, गर्दनीबाग, यारपुर वाले बाइपास से जाएं-आएं या चिरैयाटांड पुल के रास्ते, दूरी हुई दोगुनी

अगर आप पटना में रहते हैं या पटना आते-जाते हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। मीठापुर पुल बंद कर दिया गया है। हार्डिंग पार्क की ओर वाला आर्म पूरी तरह बंद हो गया है, जबकि बुद्ध मार्ग की ओर से एंट्री बंद कर यहां इसे वन-वे कर दिया गया है। इन दो हिस्सों के कारण अब शहर में कई व्यस्त इलाकों में आने-जाने में दोगुनी दूरी भी तय करनी होगी और समय भी बहुत ज्यादा बर्बाद होगा। आर. ब्लॉक पर बने जिस पुल का इसी महीने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उद्घाटन किया था, उसे मीठापुर पुल से जोड़ने के लिए यह किया गया है। पुरानी गति से काम चला तो परेशानी चार महीने तक भी खिंच सकती है, वरना दो महीने में राहत मिल सकती है।

हार्डिंग पार्क वाला आर्म बंद होने से बड़ी आबादी परेशान
हार्डिंग पार्क के पास वाले आर्म के पूरी तरह बंद होने के कारण अब बेली रोड, अनीसाबाद, फुलवारीशरीफ, गर्दनीबाग, यारपुर जैसे इलाकों से मीठापुर बस स्टैंड, करबिगहिया रेलवे स्टेशन, कंकड़बाग की तरफ जाना हो तो लंबा चक्कर लगेगा। अनीसाबाद, फुलवारीशरीफ की बड़ी आबादी बाइपास में भारी वाहनों के खतरे के बीच से करबिगहिया रेलवे स्टेशन या मीठापुर बस स्टैंड की ओर जाएगी। दूरी तो कुछ कम होगी, लेकिन खतरा बहुत ज्यादा रहेगा।

गर्दनीबाग, यारपुर वालों के पास अंदर-अंदर के जर्जर-जाम वाले रास्ते तो कई हैं, लेकिन मुख्य मार्ग से जाना चाहें तो दो विकल्प होंगे- या तो बाइपास की लंबी दूरी पकड़ लें या फिर आर. ब्लॉक से आगे मीठापुर पुल के नीचे स्टेशन रोड पर आकर जाम झेलते हुए चिरैयाटांड़ पुल पर चढ़कर कंकड़बाग पहुंचें और फिर वहां से उलटा लौटकर करबिगहिया स्टेशन रुकें या मीठापुर बस स्टैंड की ओर बढ़ें। इसके साथ ही अनीसाबाद, फुलवारीशरीफ, गर्दनीबाग, यारपुर जैसे इलाकों से कंकड़बाग जाने का रास्ता भी अब लंबा और जाम की मुश्किलों से भरा हो गया है।

आर ब्लॉक पर बने पुल को मीठापुर पुल से जोड़ना है। इसके लिए होने वाले निर्माण कार्य के चलते मीठापुर पुल बंद कर दिया गया है।

आर ब्लॉक पर बने पुल को मीठापुर पुल से जोड़ना है। इसके लिए होने वाले निर्माण कार्य के चलते मीठापुर पुल बंद कर दिया गया है।

बुद्ध मार्ग की तरफ से एंट्री बंद होने का भी असर बड़ा
बेली रोड, बोरिंग रोड, गांधी मैदान की ओर से आने वाली गाड़ियां अब बुद्ध मार्ग की ओर से मीठापुर पुल पर नहीं चढ़ सकेंगी। इस आर्म को वन-वे कर दिया गया है। इस कारण बेली रोड, बोरिंग रोड की तरफ से आने वाली गाड़ियों को अब गांधी मैदान होकर एग्जीबिशन रोड फ्लाईओवर के रास्ते कंकड़बाग की तरफ उतर कॉलोनी मोड़ के पास से यू-टर्न लेकर करबिगहिया स्टेशन या मीठापुर बस स्टैंड जाना होगा।

एक रास्ता यह भी है कि इधर की गाड़ियां इन करबिगहिया साइड या मीठापुर स्टैंड की ओर जाने के लिए सीडीए बिल्डिंग के पास से चिरैयाटांड़ फ्लाईओवर पर आए और कॉलोनी मोड़ से यू-टर्न ले। करबिगहिया, कंकड़बाग या मीठापुर बस स्टैंड की ओर से बुद्ध मार्ग की ओर उतरना संभव होगा, क्योंकि इस आर्म को सिर्फ इसी उपयोग के लिए रखा गया है।

0

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लोकप्रिय

सीएम योगी ने की भर्ती बोर्डों के अध्यक्षों के साथ समीक्षा बैठक, मांगी खाली पदों की जानकारी

लखनऊउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (yogi adityanath) ने अगले एक साल के अंदर हजारों पदों पर भर्तियों (government job in uttar pradesh) का...

रिटायर होते ही गुप्तेश्वर पर पहला सियासी हमला, संजय राउत बोले- महाराष्ट्र पर राजकीय तांडव का बिहार सरकार ने दिया इनाम

मुंबई/पटना:बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshawar Pandey) के वीआरएस यानि रिटायरमेंट लेते ही उनपर सियासी हमले शुरू हो गए हैं। पहला हमला वहीं से...

पत्रकार की बेटी को जिंदा जलाने का मामला, परोल पर आए पिता ने किया अंतिम संस्कार, कठघरे में पुलिस

हाइलाइट्स:यूपी के सुलतानपुर में पत्रकार की बेटी को जिंदा जलाने का मामलापिता ने परोल पर जेल से बाहर आकर किया बेटी का अंतिम संस्कारपीड़ित...

‘खून की प्यासी’ होती हैं तलाकशुदा महिलाएँ’ – कॉन्ग्रेसी उदित राज ‘सबसे बड़े दलित नेता’ ने दिया ‘दिव्य ज्ञान’

देश में किसी भी मुद्दे पर बहस चल रही तो और उसमें घुस कर पूर्व-सांसद उदित राज दलित-सवर्ण न खेलें तो फिर वो बहस...

पुरुषों को पसंद नहीं अपने इन कामों में कोई भी रोक-टोक, महिलाओं से हो जाता है झगड़ा

पुरुषों को किसी भी बात में ज्यादा इंटरफेयर करने की आदत नहीं होती है. ठीक उसी प्रकार उन्हें ये भी पसंद नहीं होता कि...